July 20, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

निजीकरण क्या है, इसके फायदे व नुकसान

बता रहे हैं प्रयागराज निवासी वरिष्ठ पत्रकार मनोज तिवारी, पढ़िए पूरा लेख...

Sachchi Baten

 #Privatisation  निजीकरण क्या है, इसके फायदे व नुकसान

 

 

 

बिजली विभाग की हड़ताल से हुई परेशानियों के बाद निजीकरण एक बार फिर बहस के केंद्र में आ गया है। सच्ची बातें ने प्रयागराज के वरिष्ठ पत्रकार, मनोज तिवारी टॉक शो के संचालक तथा अतिप्रष्ठित व्हाट्सएप ग्रुप के सभापति मनोज तिवारी ने जो जानकारी दी है, वह वास्तव में पठनीय है। आप भी पूरा पढ़ें….

 

प्रक्रिया
निजीकरण एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमे क्षेत्र या उद्योग को सार्वजनिक क्षेत्र से निजी क्षेत्र में स्थानांतरित शिफ्टिंग फ्रॉम  पब्लिक  सेक्टर टू  प्राइवेट  सेक्टर  किया जाता है। यानि निजीकरण एक ऐसी आर्थिक प्रक्रिया है जिसके तहत सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, औद्योगिक संस्थान और इकाइयों को निजी क्षेत्र मे स्थानांतरित किया जाता है। यहाँ पर स्थानांतरित करने का अर्थ है कि स्वामित्व सरकार के हाथों से निकल कर निजी व्यक्तियों या समूहों के हाथ मे आ जाता है। निजीकरण से आशय ऐसी औद्योगिक इकाइयों को निजी क्षेत्र में हस्तांतरित किये जाने से है जो अभी तक सरकारी स्वामित्व एवं नियंत्रण गवर्नमेंट ऑनरशिप एंड कंट्रोल में थीं।
समर्थकों के विचार 
निजीकरण के समर्थकों का कहना है कि निजी क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा अधिक कुशल प्रथाओं को बढ़ावा देती है, जो अंततः बेहतर सेवा और उत्पाद, कम कीमत और कम भ्रष्टाचार उत्पन्न करती है। निजी शब्द का अर्थ होता है व्यक्तिगत अर्थात जो सार्वजनिक परिधि से बाहर हो। निजी क्षेत्र में ऐसी इकाइयां, संस्थान या उद्योग आते हैं, जिनमें मालिकाना हक़ किसी एक व्यक्ति या व्यक्तियों के समूह का होता है। हम कह सकते हैं कि ऐसी इकाइयां, संस्थान या उद्योग जो सार्वजनिक नियंत्रण के बाहर आते हैं, उन्हें निजी क्षेत्र कहा जाता है।

 

स्वस्थ प्रतिस्पर्धा

किसी भी देश की अर्थव्यवस्था के लिए निजीकरण काफी महत्वपूर्ण है। क्योंकि इससे बाजार में एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा के साथ साथ रोजगार भी पैदा होता है। यह व्यवस्था, ग्राहक सेवाओं और वस्तुओं के मानक में सुधार करके लाभ को अधिकतम करने के लिए काम करता है। जिस अर्थ में निजीकरण का प्रयोग किया जाता है, वह विश्वभर में विनिवेश की प्रक्रिया है। इस प्रक्रिया में शेयरों को राष्ट्र स्वामित्व वाली कंपनियों से निजी क्षेत्र को बेचना सम्मिलित है।

 

मिक्स्ड  इकॉनॉमी mixed conomy वाला देश है भारत

भारत प्राइवेट और सार्वजनिक क्षेत्र दोनों के साथ एक मिश्रित अर्थव्यवस्था मिक्स्ड  इकॉनॉमी  है, लेकिन सार्वजनिक क्षेत्र 1991 तक अप्रभावी तरीके से अक्षमता से प्रभावित था। भारत में निजीकरण की शुरुआत साल 1991 में हुई थी। उस समय देश आर्थिक संकट इकॉनॉमिक  Crisis  से गुजर रहा था। इसलिए तब भारत में निजीकरण की शुरुआत तत्कालीन वित्त मंत्री डॉ मनमोहन सिंह  ने 1991 में एक बड़े आर्थिक संकट के दौरान की थी और सरकार ने घाटे में चल रही कम्पनियों को निजी क्षेत्रो को बेचने का फैसला किया।

 

अंतर्राष्ट्रीय फंडिंग एजेंसियों international funding agencies ने किया विवश

ऐसे कठिन समय में अंतर्राष्ट्रीय फंडिंग एजेंसियों  ने सरकार को आर्थिक उदारीकरण की तरफ मुड़ने पर विवश किया। इस तरह साल 1991 में नई आर्थिक नीति के अंतर्गत देश मे निजीकरण  की प्रक्रिया शुरू हुई। उसके बाद से यह प्रक्रिया जारी रही और निजीकरण की यह प्रक्रिया बाद की सरकारों ने भी जारी रखी। 1991 की नई औद्योगिक नीति में सार्वजनिक क्षेत्र के लिए कई सुधार उपाय शामिल थे। उनमें से कुछ घाटे में चल रही कंपनी को निजी क्षेत्र में बेचना था और निजी भागीदारी के लिए बढ़ावा दिया गया। 1991 से लेकर अब तक विभिन्न क्षेत्रो में समय-समय पर कई बार प्राइवेटाइजेशन किया गया है।

 

लाभ वाली नवरत्न कंपनियां

वर्ष 1997 में सरकार नें सार्वजनिक क्षेत्र की 11 कंपनियां जो लाभ की स्थिति में थी, उन्हें नवरत्न का दर्जा दिया। इसके साथ ही सार्वजनिक क्षेत्र के इन उपक्रमों को पर्याप्त स्वायत्तता भी प्रदान की गयी, ताकि वह अन्तरराष्ट्रीय स्तर  पर अपनी पहचान बना सके। इसमें उपक्रम एमटीएनएल, वीएसएनएल, आईओसी, एचएएल, बीपीसीएल, सेल और गेल आदि थे। अब तो सरकार सभी क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर निजीकरण यानी सरकारी कंपनियों को बेचने का काम ज़ोर-शोर से करने जा रही है।

 

सार्वजनिक क्षेत्रों का निजीकरण क्यों ज़रूरी  

सार्वजनिक क्षेत्रों का निजीकरण क्यों ज़रूरी है? क्यों सरकार को सार्वजनिक क्षेत्रों को निजी हाथों में सौंपने की ज़रूरत पड़ी? यह कई ऐसे सवाल हैं, जो हर किसी के जेहन में जरूर आते हैं। आखिर ऐसे कौन से कारण थे, जिनके कारण सरकार को आर्थिक नीति के तहत निजीकरण की शुरुआत करनी पड़ी।
दरअसल इसका मुख्य कारण आज़ादी के बाद देश की बिगड़ी हुई अर्थव्यवस्था को सुधारना  था और देश की प्रतिव्यक्ति आय व राष्ट्रीय आय को बढ़ाना था। जिससे बेरोजगारी को कम किया जा सके, लोगों का जीवन स्तर सुधारने का प्रयास किया जा सके। इसके अलावा सबसे बड़ी बात देश का विकास  हो सके। उस समय देश की अर्थव्यवस्था को चलाने के लिए निजीकरण का कदम उठाना पड़ा और इन तमाम बातों के कारण ही निजीकरण की ज़रूरत महसूस हुई।
दरअसल जब देश साल 1990 मे देश आर्थिक बदहाली के दौर से गुजर रहा था। उस वक्त देश में विकास संबंधी सभी कार्य हो रहे थे, लेकिन विकास के लिए जिन चीज़ों की ज़रूरत थी वो नहीं मिल पा रही थीं। इन परेशानियों से बचने के लिए 1991 में सरकार द्वारा आर्थिक नीति के तहत उदारीकरण, निजीकरण और वैश्वीकरण की नीतियां अपनाई गयीं।

 

निजीकरण के अन्य कारण

निजीकरण की ज़रूरत क्यों पड़ी। इसके अन्य मुख्य कारण भी जान लेते हैं जैसे सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में आवश्यकता से अधिक कर्मचारी हैं। जहां दो लोग काम कर रहे हैं, वहाँ एक व्यक्ति की आवश्यकता है। साथ ही सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों का खराब प्रदर्शन और सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों का घाटे में चलना भी निजीकरण का कारण है। इसके अलावा सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में राजनीतिक नेताओं का हस्तक्षेप और सार्वजनिक क्षेत्र में निर्णय लेने की धीमी प्रक्रिया  से परियोजनाओं में देरी होना है।

 

निजीकरण के प्रकार

  • स्वामित्व का स्थानांतरण
निजीकरण तीन प्रकार के होते हैं, पहला स्वामित्व का स्थानांतरण,  स्वामित्व का स्थानांतरण का तात्पर्य सरकार द्वारा कंपनी की एकमुश्त बिक्री कर दी जाती है।  यानि उस सरकारी कम्पनी पर सरकार का किसी प्रकार का स्वामित्व और प्रबंधन नहीं रह जाता है और सरकार का उस कम्पनी में किसी प्रकार का हस्तक्षेप नहीं होता है। हम कह सकते हैं कि इसमें सरकारी कंपनी के स्वामित्व और प्रबंधन से सरकार अपने आप को अलग कर लेती है।

 

  • विनिनेश
विनिवेश मतलब लगाया गया पैसा वापस लेना। किसी सरकारी कंपनी की परफॉरमेंस को सुधारने के लिये यह किया जाता है। इसमें सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (सरकारी कंपनी) के हिस्से  को निजी क्षेत्र को बेचकर विनिवेश किया जाता है। विनिवेश का मतलब किसी कार्य में लगायी गयी पूँजी वापस लेना है।
भारत में मुख्य रूप से किसी कम्पनी की परफॉरमेंस अर्थात कार्यों की गुणवत्ता सुधारने के लिए यही किया जाता है। विनिवेश यानि जब सरकार योजनाबद्ध तरीके से कुछ गैर जरुरी क्षेत्र की सार्वजनिक इकाइयों मे कुछ हिस्सेदारी निजी क्षेत्र को बेचती है। सरकार इन कंपनियों मे पूंजी को आमंत्रित करती है और समय के साथ इनकी स्थिति को सुधारने का प्रयास करती है।
सरकार द्वारा इन कम्पनियों के शेयर बेचनें का मुख्य उद्देश्य वित्तीय अनुशासन में सुधार और आधुनिकीकरण की सुविधा देनी होती है। ऐसी कई कम्पनिया हैं, जैसे नेशनल थर्मल पॉवर कार्पोरेशन, एयर इंडिया, ओएनजीसी आदि… जिनमें सरकार द्वारा विनिवेश किया गया है।
  • अविनियमन
सरकार अर्थव्यवस्था के कई क्षेत्रों को अपने नियंत्रण में रखती है। यानि इन क्षेत्रों मे निजी व्यापरियों के लिए प्रतिबन्ध होते हैं। ये क्षेत्र जैसे परमाणु ऊर्जा, रेल, रक्षा  से जुड़े क्षेत्र आदि हैं। इसके द्वारा सरकार निजी क्षेत्र को कुछ प्रतिबंधित क्षेत्र मे व्यापार करने की अनुमति देती है। इस अविनियमन नीति के कारण व्यापार के कुछ सिमित क्षेत्रों से सरकार का एकाधिकार कम होता है।

 

अब बात कर लेते हैं निजीकरण के फायदे की 
निजीकरण के फ़ायदे को हम इस तरह बता सकते हैं जैसे सार्वजनिक कंपनी का बाज़ार पर एकाधिकार होता है। प्रतिस्पर्धा नहीं होने के कारण कई बार गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया जाता है। वहीं निजी क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा होने के कारण गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाता है। इसके साथ ही कम्पटीशन  के कारण सस्ता माल और सेवाएं दी जाती हैं।
विनिवेश, निजीकृत कम्पनियों को बाजार अनुशासन से अवगत कराएगा जिससे वे बाजार ताकतों का और तेजी से मुकाबला कर सकेंगे। वे और अधिक दक्ष बनने के लिए बाध्य होंगे और वे अपने ही वित्तीय और आर्थिक बल पर जी सकेंगे। वे अपनी वाणिज्यिक आवश्यकताओं की पूर्ति और अधिक व्यावसायिक तरीके से कर सकेंगे।

 

राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं 

निजी क्षेत्र में राजनीतिक हस्तक्षेप बिलकुल भी नहीं होता। निजी क्षेत्र की कंपनी बाजार में मांग और आपूर्ति  के अनुसार फैसले लेती है। इससे अच्छी गुणवत्ता और दाम में कमी आती है। निजी क्षेत्र मे कंपनी का प्रदर्शन अच्छा होता है और कंपनी के कर्मचारियों पर भी अच्छे प्रदर्शन का दबाव होता है। उचित संरचना और उत्तम साधनों के चलते निवेशक  भी सार्वजनिक कंपनी के बजाय निजी क्षेत्र की कंपनी में निवेश करना ज्यादा पसंद करते हैं। यही वजह है कि सार्वजनिक क्षेत्र के मुकाबले निजी क्षेत्र की कंपनियों में बढ़िया निवेश पाया जाता है।
निजी क्षेत्र में निर्धारित उदेश्यों की पूर्ति के लिए साधनो का उचित उपयोग किया जाता है। इसलिए सार्वजनिक क्षेत्र के मुकाबले निजी क्षेत्र की कंपनियों की उत्पादकता बढ़िया होती है।
निजीकरण से प्रदर्शन में सुधार होगा
सरकार द्वारा संचालित उद्योग अधिकतर राजनीति से प्रेरित होते हैं और फैसले देर से होते है। जिसका असर सार्वजानिक क्षेत्र की कंपनियों के कार्यप्रदर्शन पर पड़ता है । वहीं निजी क्षेत्र की कंपनिया मुनाफे पर ध्यानकेंद्रित करती हैं। यही वजह है कई कि उनकी कार्यक्षमता बेहतर होती है।
निजी क्षेत्र मे निर्धारित उदेश्यों की पूर्ति के लिए साधनों का उचित उपयोग किया जाता है। इसलिए सार्वजनिक क्षेत्र के मुकाबले निजी क्षेत्र की कंपनियों की उत्पादकता बढ़िया होती है। निजीकरण प्रक्रिया के चलते कंपनियों के प्रबंधन उत्तम होते हैं। क्योंकि निजी कंपनियों के प्रबंधक कंपनी के मालिक के प्रति जवाबदेह होते है इसलिए वे मुनाफे को बढ़ाने के लिए प्रबंधन के उत्तम से उत्तम तरीके को अपनाते है।

 

 निजीकरण के नुकसान
निजी क्षेत्र की कंपनियों का लक्ष्य सिर्फ व्यापारिक लाभ कमाना होता है, इसलिए इस क्षेत्र में सामाजिक उद्देश्यों के प्रति उदासीनता नजर आती है। सरकार जनता के प्रति जवाबदेह भी होती है। इसलिए सार्वजनिक उद्योगों की सफलता और असफलता के लिए सरकार को जनता बाध्य कर सकती है। वहीं निजी क्षेत्र के उद्योगपतियों की जनता के प्रति कोई जवाबदेही नहीं होती है।
निजीकरण की प्रक्रिया की सबसे बड़ी कठिनाई यूनियन के माध्यम से श्रमिकों की ओर से होने वाले विरोध हैं। श्रमिक अक्सर बडे़ पैमाने पर छटंनी, नौकरी छूट जाने के डर से और काम के वातावरण में परिवर्तन जैसी बातों से सहमे रहते हैं।
क्रोनी  कैपिटलिज्म crony capitalism  को बढ़ावा मिलता है
क्रोनी  कैपिटलिज्म  ऐसी अवस्था है जिसमे सरकार कुछ गिने चुने प्रभावशाली उद्योगपतियों के पक्ष मे नीतियां बनाती है। जिसके कारण अर्थव्यवस्था मे कुछ गिने चुने लोगो का कब्ज़ा हो जाता है।
क्रोनी  कैपिटलिज्म  के कारण सरकार के आर्थिक फैसलों का फायदा केवल कुछ गिने चुने उद्योगपति वर्ग को ही मिलता है। इस वजह से बाजार मे एकाधिकार बढ़ता है। यदि निजी क्षेत्र में अगर बाज़ार में किसी कंपनी का एकाधिकार होता है तो प्रतिस्पर्धा ना होने कारण कंपनी अपने फायदे के लिए चीजों के दाम बढ़ा देती है। निजी क्षेत्र केवल अपने हित के लिए काम करता है।

 

अर्थव्यवस्था पर सरकार का नियंत्रण हो जाता है कम
निजीकरण माध्यम से अर्थव्यवस्था पर सरकार का नियंत्रण कम होता है तो निजी उद्योगपतियों का दबदबा बढ़ जाता है। जिसके कारण जहां एक तरफ रोजगार की कोई गारन्टी नहीं रहती, वही दूसरी तरफ प्रति व्यक्ति आय दर मे असंतुलन भी बढ़ जाता है।

 

सामाजिक जागरूकता के प्रति उदासीनता, निजी लाभ ही उद्देश्य

निजीकरण से निजी क्षेत्र में सामाजिक उद्देश्यों के प्रति उदासीनता नजर आती है। सिर्फ और सिर्फ व्यापरिक लाभ कमाना ही निजी क्षेत्र का एकमात्र लक्ष्य होता है। यही निजीकरण के दोनों पक्ष हैं , इसपर एक बात और है जो कहना चाहते हैं, निजी क्षेत्र में कर्मचारी को दी जाने वाली सैलरी कम होगी, सार्वजनिक क्षेत्र के मुकाबले , कर्मचारियों की सामाजिक सुरक्षा कम वेतन से बेहद प्रभावित होती है।
निजीकरण से निजी कंपनियों का एकाधिकार नहीं होना चाहिए। वे अपनी सेवा या वस्तु की कीमतें बढ़ा सकते हैं, जो भी वे चाहे। अकुशल, दूरदराज के क्षेत्रों में रहने वाले गरीब लोग के लिए निजीकरण काम नहीं भी कर सकता है। प्राइवेट कर्मचारी स्वयं समाज के इन वर्गों की जरूरतों को पूरा करने के लिए पहल नहीं करेंगे। वे इस बात पर ध्यान केंद्रित करेंगे कि उन्हें बेहतर और स्थायी लाभ मिलता रहे।
निजीकरण कुछ सेक्टर में आवश्यक है उसकी कार्यकुशलता बढ़ाने के लिये, लेकिन कुछ क्षेत्रों की समस्या का समाधान नहीं है। सार्वजनिक क्षेत्रों का बहुत अधिक निजीकरण उपयुक्त नहीं है, क्योंकि सार्वजनिक क्षेत्र मौजूद हैं, ताकि गरीब लोग भी बुनियादी मानवीय जरूरतों को पूरा कर सकें। परिवहन, अस्पताल, शिक्षा में निजी और सार्वजनिक कंपनियों का संतुलन होना चाहिए। पब्लिक-प्राइवेट-पार्टनरशिप मोड में इन्हें कुशलता से चलाया जा सकता है।
अब किसी दल के कार्यकर्त्ता केवल एक ही पक्ष देखते हैं इसलिए बस अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी बात का समर्थन या विरोध ही करना होता है . आज बीजेपी निजीकरण को बढ़ावा दे रही है वही बीजेपी 1991 में निजीकरण , उदारीकरण और भूमंडलीकरण का विरोध कर रही थी . फ़ूड सिक्योरिटी बिल का बीजेपी , सपा , बसपा तीनों ने विरोध किया था और अब बीजेपी फ़ूड सिक्योरिटी बिल के तहत ही फ्री में राशन दे रही है।

(ये लेखक के अपने विचार हैं)

लेखक वरिष्ठ पत्रकार तथा #Manoj_Tiwari_Talk_Show के संचालक हैं।


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

131 Comments
  1. ufa656 says

    very informative articles or reviews at this time.

  2. ipro999 says

    I am truly thankful to the owner of this web site who has shared this fantastic piece of writing at at this place.

  3. There is definately a lot to find out about this subject. I like all the points you made

  4. naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  5. แทงบอลเต็ง says

    Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  6. วิธีแทงบอล says

    I do not even understand how I ended up here, but I assumed this publish used to be great

  7. แทงบอล10บาท says

    I appreciate you sharing this blog post. Thanks Again. Cool.

  8. ufa191 สล็อต says

    I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  9. ufa191 ฝาก-ถอน says

    This was beautiful Admin. Thank you for your reflections.

  10. I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  11. สล็อต says

    Pretty! This has been a really wonderful post. Many thanks for providing these details.

  12. ufa656 ทางเข้า says

    Pretty! This has been a really wonderful post. Many thanks for providing these details.

  13. I truly appreciate your technique of writing a blog. I added it to my bookmark site list and will

  14. ข่าวกีฬา says

    Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  15. แทงบอลauto77 says

    For the reason that the admin of this site is working, no uncertainty very quickly it will be renowned, due to its quality contents.

  16. Frida Kline says

    I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  17. แทงบอลauto says

    Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  18. Ismael Harding says

    I do not even understand how I ended up here, but I assumed this publish used to be great

  19. แทงหวย24 says

    I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  20. ufa656 says

    I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  21. ufa191.casino says

    I am truly thankful to the owner of this web site who has shared this fantastic piece of writing at at this place.

  22. ipro999 says

    Nice post. I learn something totally new and challenging on websites

  23. ufa656 says

    I truly appreciate your technique of writing a blog. I added it to my bookmark site list and will

  24. ufa191 says

    Pretty! This has been a really wonderful post. Many thanks for providing these details.

  25. ufac4 says

    This was beautiful Admin. Thank you for your reflections.

  26. แท่งหวย24 says

    very informative articles or reviews at this time.

  27. ufa1919 says

    You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  28. ufa1913 says

    I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  29. ufa191 สล็อต says

    Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  30. ยูฟ่า1913 says

    Hi there to all, for the reason that I am genuinely keen of reading this website’s post to be updated on a regular basis. It carries pleasant stuff.

  31. ufaland says

    You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  32. Kelly Peck says

    Great information shared.. really enjoyed reading this post thank you author for sharing this post .. appreciated

  33. ufanance says

    Awesome! Its genuinely remarkable post, I have got much clear idea regarding from this post

  34. แทงบอล says

    I am truly thankful to the owner of this web site who has shared this fantastic piece of writing at at this place.

  35. ufa1913 says

    naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  36. แทงหวย24 says

    I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  37. แทงหวย24 says

    I do not even understand how I ended up here, but I assumed this publish used to be great

  38. แทงหวย24 says

    I very delighted to find this internet site on bing, just what I was searching for as well saved to fav

  39. I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  40. I appreciate you sharing this blog post. Thanks Again. Cool.

  41. หวย says

    Great information shared.. really enjoyed reading this post thank you author for sharing this post .. appreciated

  42. Lottery says

    I truly appreciate your technique of writing a blog. I added it to my bookmark site list and will

  43. หวยไทยรัฐ says

    This is my first time pay a quick visit at here and i am really happy to read everthing at one place

  44. Great information shared.. really enjoyed reading this post thank you author for sharing this post .. appreciated

  45. แท่งหวย24 says

    I do not even understand how I ended up here, but I assumed this publish used to be great

  46. lotto says

    Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  47. หวย24 says

    Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  48. ดูบาสสด says

    Great information shared.. really enjoyed reading this post thank you author for sharing this post .. appreciated

  49. 24หวย says

    Nice post. I learn something totally new and challenging on websites

  50. วัวชน says

    I am truly thankful to the owner of this web site who has shared this fantastic piece of writing at at this place.

  51. ดูไก่ชน says

    For the reason that the admin of this site is working, no uncertainty very quickly it will be renowned, due to its quality contents.

  52. มวยสด says

    For the reason that the admin of this site is working, no uncertainty very quickly it will be renowned, due to its quality contents.

  53. Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  54. ufabet says

    I really like reading through a post that can make men and women think. Also, thank you for allowing me to comment!

  55. แทงบอล says

    I very delighted to find this internet site on bing, just what I was searching for as well saved to fav

  56. Hi there to all, for the reason that I am genuinely keen of reading this website’s post to be updated on a regular basis. It carries pleasant stuff.

  57. ทางเข้าUFABET says

    Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  58. This was beautiful Admin. Thank you for your reflections.

  59. สมัคร ufabet says

    I truly appreciate your technique of writing a blog. I added it to my bookmark site list and will

  60. I appreciate you sharing this blog post. Thanks Again. Cool.

  61. naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  62. ฝากถอน UFABET says

    Great information shared.. really enjoyed reading this post thank you author for sharing this post .. appreciated

  63. You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  64. ufabet says

    Awesome! Its genuinely remarkable post, I have got much clear idea regarding from this post

  65. Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  66. ufabet says

    naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  67. ufabet911 says

    I truly appreciate your technique of writing a blog. I added it to my bookmark site list and will

  68. UFA says

    naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  69. I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  70. UFA747 says

    Hi there to all, for the reason that I am genuinely keen of reading this website’s post to be updated on a regular basis. It carries pleasant stuff.

  71. Ufabet168 says

    This was beautiful Admin. Thank you for your reflections.

  72. ยูฟ่าเบท says

    This was beautiful Admin. Thank you for your reflections.

  73. ufa says

    very informative articles or reviews at this time.

  74. I just like the helpful information you provide in your articles

  75. ufabet says

    You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  76. เว็บตรง says

    You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  77. ufabet เว็บตรง says

    Awesome! Its genuinely remarkable post, I have got much clear idea regarding from this post

  78. You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  79. UFA365 says

    I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  80. UFA356 says

    I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  81. UFA222 says

    For the reason that the admin of this site is working, no uncertainty very quickly it will be renowned, due to its quality contents.

  82. UFABET says

    Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  83. UFA147 says

    I really like reading through a post that can make men and women think. Also, thank you for allowing me to comment!

  84. UFA191 says

    Hi there to all, for the reason that I am genuinely keen of reading this website’s post to be updated on a regular basis. It carries pleasant stuff.

  85. บาคาร่า168 all says

    naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  86. naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  87. naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  88. บาคาร่า888 says

    Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  89. บาคาร่า99 says

    Pretty! This has been a really wonderful post. Many thanks for providing these details.

  90. บาคาร่า168 says

    very informative articles or reviews at this time.

  91. This is my first time pay a quick visit at here and i am really happy to read everthing at one place

  92. This is really interesting, You’re a very skilled blogger. I’ve joined your feed and look forward to seeking more of your magnificent post. Also, I’ve shared your site in my social networks!

  93. I appreciate you sharing this blog post. Thanks Again. Cool.

  94. บาคารา says

    This is really interesting, You’re a very skilled blogger. I’ve joined your feed and look forward to seeking more of your magnificent post. Also, I’ve shared your site in my social networks!

  95. เว็บพนัน says

    Great information shared.. really enjoyed reading this post thank you author for sharing this post .. appreciated

  96. Nice post. I learn something totally new and challenging on websites

  97. I just like the helpful information you provide in your articles

  98. I appreciate you sharing this blog post. Thanks Again. Cool.

  99. I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  100. baccarat says

    very informative articles or reviews at this time.

  101. There is definately a lot to find out about this subject. I like all the points you made

  102. There is definately a lot to find out about this subject. I like all the points you made

  103. baccarat says

    I really like reading through a post that can make men and women think. Also, thank you for allowing me to comment!

  104. บาคาร่า666 says

    naturally like your web site however you need to take a look at the spelling on several of your posts. A number of them are rife with spelling problems and I find it very bothersome to tell the truth on the other hand I will surely come again again.

  105. I’m often to blogging and i really appreciate your content. The article has actually peaks my interest. I’m going to bookmark your web site and maintain checking for brand spanking new information.

  106. I very delighted to find this internet site on bing, just what I was searching for as well saved to fav

  107. I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  108. I just like the helpful information you provide in your articles

  109. Awesome! Its genuinely remarkable post, I have got much clear idea regarding from this post

  110. บาคาร่า says

    Awesome! Its genuinely remarkable post, I have got much clear idea regarding from this post

  111. There is definately a lot to find out about this subject. I like all the points you made

  112. Hi there to all, for the reason that I am genuinely keen of reading this website’s post to be updated on a regular basis. It carries pleasant stuff.

  113. Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  114. This was beautiful Admin. Thank you for your reflections.

  115. Nice post. I learn something totally new and challenging on websites

  116. I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  117. บาการา says

    Nice post. I learn something totally new and challenging on websites

  118. Very well presented. Every quote was awesome and thanks for sharing the content. Keep sharing and keep motivating others.

  119. I very delighted to find this internet site on bing, just what I was searching for as well saved to fav

  120. Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  121. Hi there to all, for the reason that I am genuinely keen of reading this website’s post to be updated on a regular basis. It carries pleasant stuff.

  122. บาคาร่า888 says

    Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  123. บาคาร่า168 says

    I like the efforts you have put in this, regards for all the great content.

  124. Nice post. I learn something totally new and challenging on websites

  125. วัวชน says

    You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  126. ufa007 says

    I am truly thankful to the owner of this web site who has shared this fantastic piece of writing at at this place.

  127. UFABET เว็บตรง says

    Good post! We will be linking to this particularly great post on our site. Keep up the great writing

  128. บาคาร่า says

    very informative articles or reviews at this time.

  129. I very delighted to find this internet site on bing, just what I was searching for as well saved to fav

  130. You’re so awesome! I don’t believe I have read a single thing like that before. So great to find someone with some original thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This website is something that is needed on the internet, someone with a little originality!

  131. Hi there to all, for the reason that I am genuinely keen of reading this website’s post to be updated on a regular basis. It carries pleasant stuff.

Leave A Reply

Your email address will not be published.