July 16, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

वोट दिया मोदी-योगी के नाम पर, फिर विधायक से ऐसा जवाब मिलने पर आश्चर्य कैसा

Sachchi Baten

सोनभद्र जिले में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बना दुर्व्यवस्थाओं का अड्डा

भाजपा कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि शिकायत पर भाजपा विधायक ने कहा उनसे क्या मतलब

घोरावल, 25 मई 22023 (सच्ची बातें)। लोकसभा और विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी के गुण-दोष को आधार मानकर वोट देने की परिपाटी समाप्त होते जाने का साइड इफेक्ट सामने आने लगा है। जीतने के बाद जनप्रतिनिधि जनता की समस्याओं पर उतना ध्यान नहीं देते, जितना देना चाहिए। क्योंकि उनको पता है कि चुनाव के समय जनता उनको नहीं, मोदी व योगी को वोट देती है। फिर देगी ही।

ऐसा ही एक मामला सोनभद्र जिले के घोरावल का सामने आया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र  घोरावल में व्याप्त दुर्व्यवस्थाओं को लेकर भाजपा के एक कार्यकर्ता ने जब स्थानीय विधायक को फोन किया तो उन्होंने कथित तौर पर सीधे जवाब दे दिया कि उनसे क्या मतलब है। दावा है कि विधायक के इस जवाब को अस्पताल में मौजूद दर्जनों लोगों ने सुना।

घटनक्रम कुछ इस प्रकार की है। बीते 22 मई की रात दुर्घटनाओं में घायल कुछ लोग तथा प्रसव के लिए दो महिलाएं अस्पताल में आई थीं। घोरावल विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के कोहरथा बूथ अध्यक्ष सुरेंद्र पाठक के मौसा धरसड़ा निवासी राजकुमार पाठक पेड़ गिरने से घायल हो गए थे। उनको घोरावल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था।

उनके स्वास्थ्य का हालचाल लेने भाजपा बूथ अध्यक्ष सुरेंद्र पाठक अस्पताल पहुंचे तो ड्यूटी पर कोई चिकित्सक नहीं मिला। वार्ड में एक भी पंखा नहीं चल रहा था। इस भीषण गर्मी में घायल मरीज की स्थिति बिना पंखे के क्या होगी, यह वही बता सकता है। पीने के पानी का भी कोई इंतजाम नहीं था।

महिला वार्ड में प्रसव के लिए भर्ती महिलाओं का भी बुरा हाल था। उनके वार्ड में तो शौचालय तक नहीं है। यह अव्यवस्था देखकर सुरेंद्र पाठक ने क्षेत्रीय विधायक अनिल मौर्या को फोन लगाकर व्यवस्था ठीक कराने का निवेदन किया। पाठक ने आरोप लगाया कि विधायक ने अस्पताल में व्याप्त दुर्व्यवस्थाओं को लेकर कहा कि उनसे क्या मतलब है।

बताया गया कि पाठक ने विधायक से बात करते समय फोन को मरीजों के करीब 30-40 तीमारदार भी थे। स्पीकर ऑन होने से सभी सुन भी रहे थे। विधायक का जवाब सुनकर सभी हक्के-बक्के रह गए। पाठक ने बताया कि विधायक का जवाब सुनकर जब मरीजों के तीमारदार आलोचना कर रहे थे, उसी समय एक डॉ. देवेश पांडेय आए और मरीजों तथा उनके तीमारदारों को हड़काने लगे।

इस पूरे घटनाक्रम के गवाह विश्व हिंदू परिषद पूर्वी उत्तर प्रदेश के सत्संग प्रमुख दिवाकर जी, बजरंग दल विभाग संयोजक राजीव जी, प्रखंड अध्यक्ष दूधनाथ दुबे जी, भाजपा नेता अशोक अग्रहरि, मंडल मंत्री श्रीपति त्रिपाठी, भाजपा मंडल मीडिया प्रभारी सुनील त्रिपाठी, किसान मोर्चा महामंत्री सुधीर मिश्र सहित दर्जनों लोग उपस्थित थे।


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.