July 16, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री गडकरी ने मिर्जापुर के लिए खोल दिया खजाना

Sachchi Baten

अनुप्रिया पटेल का सपनाः विकास का मॉडल बने मिर्जापुर अपना

मिर्जापुर सांसद अनुप्रिया पटेल का प्रयास सफल, 1750 करोड़ की दो एनएच परियोजनाओं का शिलान्यास

-केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शिलान्यास के पहले किया मां विंध्यवासिनी धाम में दर्शन-पूजन

-अनुप्रिया पटेल की मांग पर मिर्जापुर-प्रयागराज मार्ग फोरलेन, मिर्जापुर से औराई मार्ग पर माधव सिंह रेलवे क्रासिंग पर फ्लाई ओवरब्रिज तथा हलिया-ड्रमंडगंज-कोरांव मार्ग के चौड़ीकरण की घोषणा

मिर्जापुर (सच्ची बातें)। शुक्रवार का दिन मिर्जापुर के लिए ऐतिहासिक रहा। एक ही दिन में 1750 करोड़ रुपये की लागत वाली दो राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास हुआ। स्थानीय सांसद केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के संसदीय क्षेत्र मिर्जापुर को आवागमन की दृष्टि से विकसित बनाने के लिए शिलान्यास के मौके पर अन्य कई योजनाओं की भी घोषणा की।
स्थानीय राजकीय पॉलिटेक्नीक कॉलेज में आयोजित भव्य समारोह में केंद्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने मिर्जापुर-प्रयागराज मार्ग को फोरलेन करने की घोषणा की। अभी यह टू लेन है। इसके साथ ही कहा कि मिर्जापुर-औराई मार्ग पर माधो सिंह के पास रेलवे क्रासिंग पर फ्लाई ओवर बनेगा। हलिया से ड्रमंडगंज होते हुए कोरांव मार्ग का चौड़ीकरण कराने की भी घोषणा केंद्रीय सड़क मंत्री ने की।
शिलान्यास के पहले गडकरी ने मां विंध्यवासिनी मंदिर में पूजा-अर्चना की। राजकीय पॉलिटेक्नीक कॉलेज में जनसभा को संबोधित करते हुए गडकरी ने कहा कि माँ विंध्यवासिनी की छाया में बसा मिर्जापुर जिला धार्मिक और प्राकृतिक रूप से महत्वपूर्ण है। इस पूरे क्षेत्र को विकसित करने के लिए 1750 करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाली दो महत्वाकांक्षी राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का आज शिलान्यास किया जा रहा है। इनमें राष्ट्रीय राजमार्ग 135ए पर 15 किमी लंबाई में गंगा नदी पर 6-लेन पुल समेत 4-लेन के मिर्जापुर बाईपास का निर्माण होगा।
साथ ही राष्ट्रीय राजमार्ग 35 और 330 पर मिर्जापुर से प्रयागराज और प्रयागराज से प्रतापगढ़ तक 59 किमी लंबाई की सड़क की मरम्मत का कार्य भी होगा। उन्होंने कहा कि इन दोनों परियोजनाओं के पूर्ण होने से मिर्जापुर जिले में आने वाले धार्मिक स्थलों तक श्रद्धालुओं का आवागमन आसान होगा, जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।
मिर्जापुर समेत प्रयागराज और पूर्वांचल के कई जिलों में आर्थिक विकास को नई गति मिलेगी। गंगा नदी पर 4-लेन मिर्जापुर बाईपास के निर्माण से जहां जाम से निजात मिलेगी, वही मिर्जापुर-अयोध्या के बीच कनेक्टिविटी में सुधार होगा, जिससे व्यापार में वृद्धि होगी।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के मार्गदर्शन में और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के कुशल नेतृत्व में मिर्जापुर तथा संपूर्ण उत्तर प्रदेश के समग्र विकास के लिए हम कटिबद्ध है। गडकरी ने कहा कि मिर्जापुर में पहली बार आया था तो मुख्यमंत्री जी के साथ में थे, परन्तु मां विन्ध्यवासिनी देवी का दर्शन पूजन नही हो सका था। आज माता जी का दर्शन करके में स्वयं धन्य महसूस कर रहा हूं। देश की तरक्की की कामना एवं प्रार्थना की।
उन्होंने विन्ध्यवासिनी देवी को ऐतिहासिक स्थान बताते हुये कहा कि यहां पर राम भगवान भी दर्शन कर चुके। उन्होंने कहा कि 2024 समाप्त होने तक देश की सड़के अमेरिका की तरह होंगी और देश के किसान अन्नदाता के साथ ऊर्जादाता भी बनेंगे।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि निकट भविष्य में एथेनाल से गाड़ियां चलेंगी, जो पेट्रोल से सस्ता होगा। मिर्जापुर से अध्योया की दूरी अब तीन घंटे में तय कर सकेंगे, मैंने जो वादा किया था, उसे पूर्ण कर रहा हूं। गडकरी ने कहा कि मिर्जापुर के गंगा नदी पर बने शास्त्री सेतु के जर्जर होने से मध्य प्रदेश, वाराणसी, जौनपुर, भदोही, प्रयागराज अन्य जनपद में जाने वाले वाहनों को अधिक दूरी तय करना होता था।
मिर्जापुर जनपदवासियों की कई वर्षों से मांग की जा रही थी। मिर्जापुर की सांसद व केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के अथक प्रयास से अब गंगा नदी पर नया छह लेन पुल निर्माण होगा। नये गंगा सेतु निर्माण से शहर में भारी वाहनो के यातायात से निजात मिलेगी तो वहीं अन्य शहरों से कनेक्टिविटी आसान होगी। बाईपास और सेतु निर्माण से वाराणसी मध्य प्रदेश की ओर जाने वाले वाहन बिना मिर्जापुर शहर में प्रवेश किये सीधे जौनपुर, अम्बेडकर नगर, अयोध्या उत्तर प्रदेश के पूर्वी जनपदों में जा सकेंगे। इसके साथ ही मां विन्ध्यवासिनी देवी मन्दिर, कालीखोह मन्दिर तथा अष्टभुजा मन्दिर के समीप से बाईपास से श्रद्धालुओ को फायदा मिलेगा। आसानी से पहुंचकर दर्शन कर सकेंगे।
गडकरी ने मिर्जापुर की सांसद व केन्द्रीय अनुप्रिया पटेल की मांग पर 1500 करोड़ की लागत से मीरजापुर से प्रयागराज तक फोर लेन मार्ग, हलिया से कोरांव मार्ग का चौड़ीकरण 1000 करोड़ तथा 100 करोड़ की लागत से मिर्जापुर-औराई के बीच माधो सिंह रेलवे क्रासिंग फ्लाई ओवरब्रिज के निर्माण के लिए स्वीकृति देते हुए घोषणा की।
उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्षो में उत्तर प्रदेश में 13000 किलोमीटर का हाइवे अब बन चुका है। जबकि 2014 तक 7986 किलोमीटर ही था। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में 2024 की समाप्ति तक पांच लाख करोड़ की सड़कें कुछ पूर्ण होंगी, या कुछ शूरू होगी और कुछ पर कार्य प्रारम्भ रहेगा। उन्होनें कहा कि पिछले 10 वर्षो में 5 हजार किलोमीटर का निर्माण एक लाख करोड़ रुपये व्यय कर पूर्ण किया है। वित्तीय वर्ष 2024-25 में एक लाख करोड़ की लागत से 3500 किलोमीटर हाइवे का निर्माण पूर्ण होगा।
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में लगभग 7 हजार करोड़ की लागत से 40 बाईपास का निर्माण हो रहा हैं। इसी प्रकार उत्तर प्रदेश में 5250 हजार करोड़ की लागत की परियोजनाओं पर निर्माण चल रहे हैं, जो उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदल देगा।
मिर्जापुर की सांसद केंद्रीय राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि जबसे केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार आयी है, तब से देश व प्रदेश में चतुर्दिक विकास अग्रसर हो रहा है।  नितिन गडकरी जी प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व वाली सरकार में विकास पुरुष के रूप में उभरकर आये हैं। इन्होंने हमेशा जनहित व राष्ट्रहित को सर्वोपरि कर कार्य करते हुये विकास को गति देने का काम किया है।
श्रीमती पटेल ने कहा कि जब भी हम जनपद मिर्जापुर के विकास व तरक्की के लिए सड़क मंत्री जी के पास गए तो उन्होने हमेशा जनपद मिर्जापुर के लिये अपना खाजाना खोलकर दिया है। इसी क्रम में काफी दिनो से गंगा ब्रिज जो 1976 में बना हुआ था। काफी पुराना होने के कारण कई बार मरम्मत भी कराई गई, जिसके कारण से आने जाने में लोगों को काफी दिक्कतें होती रहीं। प्रयागराज जौनपुर से मिर्जापुर तथा मध्य प्रदेश के लोगों को जौनपुर की तरफ जाने मे काफी दूरी तय करनी पड़ती थी। काफी दिनो से गंगा नदी पर नए पुल निर्माण की मांग की जा रही थी। मेरे द्वारा गडकरी जी के संज्ञान में लाते हुये नये पुल निर्माण के लिए मांग की जाती रही है। जनता की आवाज को सुनते हुये मंत्री सड़क परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री की कृपा दृष्टि जनपद पर हुयी और गंगा नदी पर बाईपास सहित 06 लेन पुल की सहर्ष स्वीकृति प्रदान करते हुये बजट को भी आवंटित किया गया।
श्रीमती पटेल ने मिर्जापुर के विकास व सड़कों के चौड़ीकरण की मांग में से तीन कार्यों की स्वीकृति की घोषाण पर  गडकरी के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने संबोधित किया।
मां विंध्यवासिनी धाम जाने के पहले हेलीपैड पर गडकरी का स्वागत कैबिनेट मंत्री प्राविधिक शिक्षा एवं उपभोक्ता मामले आशीष पटेल, विधायक नगर रत्नाकर मिश्र, विधायक मड़िहान रमाशंकर पटेल व प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी विशाल कुमार ने पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। गडकरी ने विंध्य कॉरिडोर की प्रगति की जानकारी भी संबंधित अधिकारियों से ली।
जनसभा स्थल के मंच पर मौजूद केन्द्रीय राज्यमंत्री वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री अनुप्रिया पटेल, कैबिनेट मंत्री प्राविधिक शिक्षा एवं उपभोक्ता मामले आशीष पटेल, उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह, विधायक सदर रत्नाकर मिश्र, विधायक मड़िहान रमाशंकर पटेल, विधायक छानबे रिंकी कोल, चेयरमैन सहकारिता जगदीश सिंह पटेल व प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी विशाल कुमार ने क्रमशः स्मृति चिन्ह व पुष्प गुच्छ भेंटकर स्वागत व अभिनन्दन किया। तत्पश्चात नितिन गडकरी ने बटन दबाकर 1750 करोड़ रुपए की लागत वाली 2 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.