July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

जनजातीय संग्रहालय की स्थापना: अनुप्रिया पटेल ने अर्जुन मुंडा से की मुलाकात

श्रीमती पटेल ने केंद्रीय मंत्री मुंडा जी से मीरजापुर और सोनभद्र में जनजातीय संग्रहालय की स्थापना हेतु क्रमश: 2486.46 एवं 2479.23 लाख रुपए अनुमानित लागत के प्रस्ताव के अनुमोदन के लिए अनुरोध किया

Sachchi Baten

 


 

 जनजातीय संग्रहालय की स्थापना : अनुप्रिया पटेल ने अर्जुन मुंडा से की मुलाकात

 

-‘जनजातीय संग्रहालय’ के माध्यम से आदिवासी समुदायों की सांस्कृतिक विरासत को सहेजने में मदद मिलेगी: अनुप्रिया पटेल, केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग राज्य मंत्री

 

मीरजापुर, (सच्ची बातें ) 17 मार्च: 
केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग राज्य मंत्री एवं जनपद की लोकप्रिय सांसद अनुप्रिया पटेल ने मीरजापुर और सोनभद्र में जनजातीय संग्रहालय की स्थापना हेतु केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा जी से शुक्रवार को नई दिल्ली में मुलाकात की।

 

इस दौरान श्रीमती पटेल ने केंद्रीय मंत्री श्री मुंडा जी से मीरजापुर और सोनभद्र में जनजातीय संग्रहालय की स्थापना हेतु उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अग्रेसित क्रमश: 2486.46 एवं 2479.23 लाख रुपए अनुमानित लागत के प्रस्ताव के अनुमोदन के लिए अनुरोध किया। इस अवसर पर केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्रालय के सचिव भी उपस्थित थे।

 

बता दें कि केंद्रीय मंत्री श्रीमती  पटेल पिछले ढाई सालों से उत्तर प्रदेश सरकार एवं केंद्रीय जनजातीय मंत्रालय के माध्यम से मीरजापुर और सोनभद्र में बिरसा मुंडा

 

जनजातीय संग्रहालय की स्थापना के लिए प्रयासरत हैं। इसी क्रम में श्रीमती पटेल ने आज शुक्रवार को केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्री श्री अर्जुन मुंडा जी से मुलाकात की और संग्रहालय के निर्माण हेतु प्रस्तावित धनराशि के अनुमोदन के लिए अनुरोध किया।

 

जनपद में ‘जनजातीय संग्रहालय’ के निर्माण हेतु उत्तर प्रदेश सरकार के प्रमुख सचिव ने केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्रालय भारत सरकार को पिछले महीने पत्र लिखकर अनुदान देने का अनुरोध किया था।

 

जनपद में ‘जनजातीय संग्रहालय’ की स्थापना हेतु केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल पिछले ढाई साल से निरंतर प्रयासरत हैं। सबसे पहले उन्होंने 2021 में भगवान बिरसा मुंडा की जयंती के अवसर पर जनपद में ‘जनजातीय संग्रहालय’ की स्थापना की मांग की थी।

 

पिछले साल ‘जनजातीय गौरव दिवस’ की पूर्व संध्या 14 नवंबर 2022 को श्रीमती पटेल ने मीरजापुर में ‘जनजाति संग्रहालय’ की स्थापना संबंधी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार कराकर भारत सरकार को भेजने हेतु उत्तर प्रदेश के पर्यटन मंत्री श्री जयवीर सिंह को पत्र लिखकर अनुरोध किया था। इससे पहले श्रीमती पटेल द्वारा प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी को इस बाबत 5 मई 2022 को एक प्रस्ताव भेजा गया था।

 

श्रीमती पटेल ने पत्र के माध्यम से कहा था कि आदिवासी जनसमुदाय के स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान के प्रति कृतज्ञता की अभिव्यक्ति स्वरूप ‘जनजातीय संग्रहालयों’ के निर्माण का निर्णय लिया जाना सराहनीय कदम है।

 

मीरजापुर में काफी तादाद में निवास करता है आदिवासी समाज:
मीरजापुर जनपद में कोल, बियार, गोंड आदि आदिवासी समुदाय काफी तादाद में निवास करता है। केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल ने जनजातीय संग्रहालय के माध्यम से स्वतंत्रता सेनानियों और जनजातियों के परंपरागत रीति-रिवाजों, रहन-सहन, खान-पान, पूजा-अनुष्ठान, नृत्यकला व वाद्य यंत्रों के प्रदर्शन द्वारा आदिवासी समुदायों की सांस्कृतिक विरासत को सहेजकर रखने के उद्देश्य से मिर्जापुर जनजातीय संग्रहालय की स्थापना हेतु 5 मई 2022 को माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ को एक प्रस्ताव भेजा था।
जनपद में ‘जनजातीय संग्रहालय’ की स्थापना हेतु 22 दिसंबर 2021 को तत्कालीन जिलाधिकारी द्वारा मड़िहान में 4046 हेक्टेयर भूमि आवंटित की जा चुकी है.

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.