July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

तीसरी कड़ीः नल-जल योजना के अलंबरदारों ने सड़कों को चौपट कर दिया है

Sachchi Baten

मिर्जापुर में विकास की हकीकतः पैदल चलने लायक भी नहीं हैं जमालपुर विकास खंड की अधिकतर सड़कें

डेढ़ौना गांव के पास सड़क से कीचड़ सुखाने के लिए ट्रैक्टर से पाटा चलवाया गया

राजेश कुमार दुबे, जमालपुर (मिर्जापुर)। जनप्रतिनिधि तो जमालपुर विकासखंड को लेकर उदासीन हैं ही, रही-सही कसर हर घर नल जल योजना ने पूरी कर दी। नल-जल योजना के अलंबरदारों ने कुछ सड़कों का भर्ता बना दिया है। जिन पर पैदल भी आने-जाने लायक नहीं है।

जमालपुर ब्लॉक में एक गांव है डेढ़ौना। ओ़ड़ी की ओर से खजुरौल जाने के लिए सबसे कम दूरी वाली सड़क इसी गांव से होकर जाती है। इसी रोड पर हाईस्कूल डेढ़ौना भी पड़़ता है।

इस गांव के पास सड़क दिखाई ही नहीं देती। लगता है कि यह धान की रोपाई के लिए तैयार किया गया खेत हैै। सड़क की दुर्दशा का आलम यह है कि कीचड़ सूखने के लिए ग्रामीणों ने ट्रैक्टर से पाटा चलाया।

इसी गांव के निवासी भारतीय जनता पार्टी के जमालपुर मंडल अध्यक्ष नरसिंह चौहान हैं। जब इनके गांव से होकर गुजरने वाली सड़क का यह हाल है तो अन्य की स्थिति क्या होगी, सहज कल्पना कर सकते हैं।

दरअसल नल-जल योजना के कर्ता-धर्ताओं ने ही इसका बंटाधार किया है। नल-जल योजना के पहले यह सड़क ऐसी नहीं थी। पहले पाइप लाइन बिछाने के लिए नाली बनाई। उसकी भराई मानक के अनुसार न किए जाने  से मिट्टी सड़क पर आ गई। बारिश होने से वह कीचड़ में तब्दील हो गई। वह कितनी बार सड़कों को खोदेंगे, किसी को पता नहीं है। अभी भी अन्य सड़कों पर स्थान-स्थान पर खुदाई की जा रही है।

सड़कों की बेहिसाब खुदाई किए जाने को लेकर भारतीय किसान यूनियन (लोकशक्ति), भारतीय किसान यूनियन के साथ ही ग्रामीणों ने भी शासन-प्रशासन व अपने जनप्रतिनिधियों का ध्यान आकृष्ट कराया, लेकिन नल-जल योजना की ठीकेदार कंपनी मेधा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लि. के अधिकारियों व कर्मचारियों पर कोई असर नहीं हुआ।

खुदाई कराने के बाद उसकी भराई प्रापर तरीके से न किए जाने का खामियाजा ग्रामीण भुगत रहे हैं। गर्व करिए कि आप मिर्जापुर के निवासी हैं और मिर्जापुर बदल रहा है।

…जारी, पढ़ते रहिए www.sachchibaten.com

 

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.