July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

भ्रष्टाचार की गठरी की खुलने लगी गांठ तो छह डिग्री में हुआ लेपन कार्य

Sachchi Baten

भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस-7

लोनिवि निर्माण खंड-2 मिर्जापुर में अभियंताओं की डिग्री कैसी, कोहरे व भीषण ठंड में कराई सड़क की पेंटिंग

-14 किलोमीटर लंबे जमुई-रामपुर वाया भुड़कुड़ा को नियम विरुद्ध टेंडर के बजाए बांड के जरिए कराया गया काम

-सोनू मिश्रा कंस्ट्रक्शन पर बरसी अधिशासी अभियंता देवपाल की मेहरबानी

-टेंडर की शर्तों का उल्लंघन कर हॉट-मिक्स प्लांट के स्थान पर मैनुअली लेपन कराया गया

राजेश पटेल, मिर्जापुर (सच्ची बातें)। लोक निर्माण विभाग निर्माण खंड-2 मिर्जापुर में तैनात अभियंताओं को तकनीकी जानकारी नहीं है, या अनदेखी कर रहे हैं। यह कोई अनसुलझा सवाल नहीं है। छह डिग्री तापमान में सड़क का लेपन कार्य इसी खंड में संभव है।

इसे भी पढ़ें…PWD MIRZAPUR : अंधेरपुर नगरी… सड़क बनी नहीं, पैसा गया कहां ?

विस्तार से…

जमुई-रामपुर वाया भुड़कुड़ा मार्ग की लंबाई करीब 14 किलोमीटर है। इसके नवीनीकरण के लिए 10 जनवरी 2023 को अनुमानित लागत 78 लाख का टेंडर प्रकाशित किया गया। कार्य पूरा करने की अवधि चार माह थी। इसके आलोक में 73 लाख रुपये का एक टेंडर भरा गया। सिंगल टेंडर को निरस्त कर दिया जाता है। लिहाजा इस टेंडर को निरस्त कर दिया गया।

इसे भी पढ़ें…लूट का प्राक्कलनः 35.88 किमी सड़क, राशि 11 हजार 398.67 लाख रुपये

इसके बाद अधिशासी अभियंता देवपाल ने अपने अधिकार का दुरुपयोग करते हुए 10-10 लाख के बांड बनवाकर काम कराना शुरू किया। जबकि नियमतः इतनी लंबी सड़क बांड के जरिए नहीं बनायी जा सकती। दरअसल अधिशासी अभियंता की पूरी योजना थी कि यह कार्य सोनू मिश्रा कंस्ट्रक्शन के जरिए कराया जाए। सिंगल टेंडर निरस्त हो जाने से यह कार्य आसान हो गया। दोबारा टेंडर प्रकाशित कराने के बजाए सोनू कंस्ट्रक्शन के नाम टुकड़ों में बांड बनवा दिया गया।

इसे भी पढ़ें...PWD MIRZAPUR : सड़क निर्माण में गड़बड़ी की विजिलेंस जांच की अनुशंसा

पता चला है कि काम शुरू होने के पहले ही लगभग पूरी राशि की निकासी करवा ली गई थी। जब सच्ची बातें डॉट कॉम http/www.sachchibaten.com/ पर सड़कों के निर्माण में की जा रही लूट की दास्तां सार्वजनिक होने लगीं तो बचाव के लिए आनन-फानन में इस ठंड में पेंटिंग कराई जाने लगी। इस समय तापमान पेंटिंग के लिए स्टैंडर्ड मानक से काफी कम है।

इसे भी पढ़ें…PWD MIRZAPUR : नवीनीकरण की राशि 96 लाख, मुहाने की स्थिति ऐसी

सड़क पेंटिंग के लिए क्या होना चाहिए तापमान

जानकारों का कहना है कि हाट मिक्स में तारकोल व गिट्टी के मिश्रण को 160 डिग्री सेल्सियस तापमान पर निकालना चाहिए। 100 डिग्री होते-होते बिछ जानी चाहिए तथा 80 डिग्री से कम होने के पहले ही रोलिंग हो जानी चाहिए। मौसम की बात करें तो 16 डिग्री सेल्सियस या इससे ज्यादा तापमान ही पेटिंग के लिए उपयुक्त है।

इसे भी पढ़ें…पैसा ही देवता है मिर्जापुर में पीडब्ल्यूडी के इस अधिशासी अभियंता के लिए

इस समय तापमान 10-12 डिग्री है। ऐसे में की गई या की जा रही पेंटिंग की उम्र कितनी होगी, यह तो विभागीय अभियंताओं को बेहतर पता होगा। क्योंकि इसी की पढ़ाई की है। जानकारों की मानें तो मानक से कम तापमान में की गई पेंटिग ठीक से सेट नहीं होती। लिहाजा सड़क जल्दी उखड़ने लगती है। यह बात लोक निर्माण विभाग निर्माण खंड-2 के अभियंताओं की समझ में क्यों नहीं आ रही, यह समझ से परे है। सबसे बड़ी बात यह है कि सामग्री में करीब 40 फीसद चोरी करने के उद्देश्य से टेंडर की शर्तों का उल्लंघन करते हुए हॉट-मिक्स प्लांट के स्थान पर  लेपन का कार्य मैनुअली कराया गया। इसमें ऊपर से नीचे तक की मिलीभगत नजर आ रही है।

इसे भी पढ़ें…भ्रष्ट आचरण के कारण जिसे दी गई अनिवार्य सेवानिवृत्ति, वह मिर्जापुर में लूट रहा

 

अभी तो यह झांकी है…

बहुत कुछ है। पढ़ते रहिए मिर्जापुर लोक निर्माण विभाग निर्माण खंड-2 में लूट की दास्तां…जारी

 

नोट- मिर्जापुर लोक निर्माण विभाग निर्माण खंड-2 के अधिशासी अभियंता देवपाल जी यदि इन आरोपों के बारे में कोई सफाई देना चाहते हैं तो स्वागत है। वह मेरे मोबाइल नंबर 7909081514 पर ह्वाट्सएप के माध्यम से भेज सकते हैं। उनकी पूरी बात प्रकाशित की जाएगी।

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.