July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

social media trends, का हो मंगरू अब का करबा…, यादव लोग जब पीटते हैैं न, तो रोने नहीं देते

Sachchi Baten

घोषी उपचुनाव परिणाम के बाद सोशल मीडिया सनसनी  बन गए ओपी राजभर व शिवपाल यादव

राजेश पटेल, मिर्जापुर (सच्ची बातें)। उत्तर प्रदेश की घोसी विधानसभा के उपचुनाव का नतीजा सत्ता पक्ष व विपक्षी गठबंधन INDIA के लिए अलग-अलग मायने हैं। एक गठबंधन की जीत और दूसरे की करारी हार हुई है। ऐसे समय में सोशल मीडिया का अपना ट्रेंड है। यहां तो ओपी राजभर ही सनसनी बने हुए हैं। सोशल मीडिया यूजर्स में ज्यादातर ओपी राजभर से पूछ रहे हैं कि का हो मंगरू अब का करबा, अब केकर छान उजड़बा…। उधर शिवपाल यादव ने भी कहा है कि यादव जब पीटता है तो रोने नहीं देता।

सोशल मीडिया पर घोषी विधानसभा उपचुनाव के परिणाम की घोषणा होते ही सोशल मीडिया में ओपी राजभर ट्रेंड करने लगे। उनकी ही बातों की पुरानी रिकॉर्डिंग सुना सुना कर चिढ़ाया जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी के सांसद व भोजपुरी फिल्म कलाकार मनोज तिवारी के उस गाने की ऑडियो-वीडियो भी वायरल हो रही है, जिसमें गाने में -का हो मंगरू अब का करबा, अब केकर छान उजड़बा…।

सत्ता पक्ष के एक नेता के बयान पर सपा नेता शिवपाल यादव ने जो जवाब दिया है, उसे भी लोग चटखारे ले कर सुन रहे हैं। शिवपाल ने कहा है- यादव जब पीटता है न, तो रोने नहीं देता। फेसबुक, ह्वाट्सएप्प, ट्विटर एक्स पर भी लोग ओपी राजभर को तरह-तरह से ट्रोल कर रहे हैं।

सोशल मीडिया ट्रेंड के जानकार कहते हैं कि ओपी राजभर इतनी बार रंग बदल रहे हैं कि अब उनको कोई गंभीरता से नहीं लेता। सोशल मीडिया ने  आज उनको आईना दिखाने का काम किया है। एनडीए के नेताओं को भी।

कुछ मजेदार पोस्ट

फेसबुक पर गिरीश कुमार सिंंह ने लिखा है, BRECKING NEWS- बरनाल की बिक्री तेज। विनय सिंंह ने इनकी पोस्ट पर मजेदार जवाब भी दिया है- आपने कितना खरीदा।

प्रमुख समाचार चैनल यूपी तक के पेज पर पोस्ट किया गया है- घोसी से फरार हो गए राजभर, लखनऊ में भी नहीं चल रहा पता!

गिरीश तिवारी लिखते हैं- घोसी उपचुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी सुधाकर सिंह लगभग 42000 वोटो से विजयी हुए।पियरकवा चचा का मंत्री बनने पर लगा ग्रहण।

सत्येंद्र पांडेय का पोस्ट थोड़ा लंबा है, पर पढ़ने लायक है- यह चुनाव कोई सामान्य चुनाव नहीं था!! इस उपचुनाव में #घोसी की जनता ने #जाति की #ठेकेदारी ले चुके नेताओं को परास्त किया!! #दल_बदलूओ को आइना दिखाया!! क्षेत्रीयता को स्वीकार कर अपने क्षेत्र के #जमीनी#जनसुलभ नेता को अपना जनसमर्थन दिया!! और इस बात का संदेश दिया कि यदि जनता मन बना ले और प्रत्याशी जमीनी व जन_सुलभ हो तो मुख्यमंत्री समेत सत्ता के सभी मंत्री ,विधायक, सांसद गण कुछ बना या बिगाड़ नहीं सकते!! #घोसी की जनता के साथ-साथ समाजवादी पार्टी के सभी कार्यकर्ता पदाधिकारीओ को जीत की बहुत-बहुत बधाई!!

सिद्धार्थ सिंह ने लिखा है-  पचास हज़ार से जीत का दावा कर मा. अखिलेश यादव जी को सैफई भेजने वाले के लिये दो शब्द ।। राजभर समाज ने तो #घोसी में मा. अखिलेश यादव जी को अपना वोट दे दिया ।।

नवभारत टाइम्स ऑनलाइन के पेज पर- घोसी की जनता के फैसले का हम स्वागत करते हैं. विपक्ष वाले जब हारते हैं तो EVM का दोष देते हैं लेकिन अब तो यह प्रमाण हो गया है कि EVM सही है – घोसी विधानसभा उपचुनाव की मतगणना पर सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर।

एडवोकेट हृदय लाल मौर्या – घोसी की जनता ओम प्रकाश राजभर को 11 राउन्ड रेल चुकी है और ओम प्रकाश राजभर 11 राऊंड चिन्गुर चुका है,  बार बार चिन्गुर रहा है।

ओमशंंकर लिखते हैं- उत्तर प्रदेश के घोसी उपचुनाव में इंडिया गठबंधन के जीत की पूरी संभावना दिख रही है। राजभर और दारा सिंह चौहान जैसे दलबदलू बहुजन भी एनडीए को चुनाव जितवाने में अक्षम दिख रहे!

ट्विटर TWITTER X

राज सिंह यादव ने ट्विटर पर पोस्ट किया है- ओपी राजभर ! याद है ? यादव जब पीटते है तो रोने नही देते है’ माननीय चाचा श्री @shivpalsinghya जी। साथ में शिवपाल यादव का बाइट को अटैच किया गया है। https://twitter.com/rajsinghyadav02/status/1699953510325137749?s=20

Vivek K. Tripathi

एनडीए बनाम इंडिया गठबंधन में घोसी से

के सुधाकर सिंह 9000 वोट से आगे हैं. @BJP4UP हार गई तो दारा सिंह/ओपी राजभर के सपनों का क्या होगा!! मंत्रिमंडल विस्तार भी होना है.. इस उपचुनाव पर देश की नजर है.. बड़ों की प्रतिष्ठा दांव पर है..।

विवेक कुमार त्रिपाठी की ही एक और पोस्ट है- घोसी में दारा सिंह हारे या हराया गया! भाजपा हारी या बाजीगर बनी! निश्चित ही दारा जीतते तो भाजपा पर दबाव होता उन्हें और ओपी राजभर को मंत्री बनाने का, लेकिन दिल्ली के हेलीकॉप्टर से आए लोगों की सत्ता में हिस्सेदारी इतनी आसान नहीं.. फिर इस जीत से ईवीएम पर भी तो सवाल खत्म करने थे न..।
भारत समाचार ने – घोसी उपचुनाव में सपा ने बढ़ाई बढ़त। मीडिया के सवालों से बच रहे ओपी राजभर। सवाल का जवाब देने से राजभर का इनकार। सपा की बढ़त से राजभर के चेहरे का उड़ा रंग।
Samajwadi समाजवादी नाम के एक यूजर ने पोस्ट किया है-जब चाचा जी राजनीति करते है तो विपक्षियों को पानी भी नहीं पीने देते अकेले चाचा जी ने पूरे बीजेपी वालों की ऐसी हालत कर दी है की बीजेपी वालों के तेल मालिश करने के बाद भी घोसी की जनता सपा के साथ है ओपी राजभर और उनके बेटे तो इतना बौखला गए है लगता है की पागलखाना जाने की नौबत आ गई है।
अखिलेश तिवारी लिखते हैं- समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी #सुधाकर सिंह ने #घोसी उपचुनाव 63000 वोटों से जीता। भाजपा प्रत्याशी दारा सिंह चौहान की हार.. अब पियारका चाचा का क्या होगा? इनके दावे तो बड़े बड़े निकल रहे थे.. चाचा जनता अब समझदार हो चुकी है.!
श्याम यादव- पचास हज़ार से जीत का दावा कर मा. अखिलेश यादव जी को सैफई भेजने वाले के लिये दे शब्द ।। राजभर समाज ने तो #घोसी में मा. अखिलेश यादव जी को अपना वोट दे दिया ।।
एक खास पोस्ट…
Gurpreet Garry Walia की पोस्ट- दोनों में लड़ाई है क्लेश है पार्टी दो फाड़ हो रही है अब सपा ख़त्म ये सब बकवास बोलने वाले पतलकारों कैसी लगी तसवीर और #GhosiByPoll का नतीजा।
Image
और अंत में…

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.