July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

…तो क्या मिर्जापुर के हर बूथ पर जरूरत होगी दो-दो ईवीएम की?

Sachchi Baten

पहले ही दिन 32 लोगों ने खरीदे नाम निर्देशन पत्र

-नामांकन की आखिरी तारीख 14 मई, मतदान एक जून को

-15 मई को होगी पर्चों की जांच, 17 मई को कर सकेंगे वापसी

मिर्जापुर (सच्ची बातें)। मिर्जापुर संसदीय सीट के चुनाव में हर बूथ पर दो-दो ईवीएम की जरूरत पड़ सकती है। जिस हिसाब से लोगों ने पर्चे खरीदे हैं, उससे तो यही लगता है।  मिर्जापुर संसदीय सीट के चुनाव के लिए नामांकन के पहले ही दिन 32 लोगों ने नाम निर्देशन पत्र खरीदे। यदि सभी ने नामांकन पत्र दाखिल किया और पर्चे वैध रहे तो हर बूथ पर दो-दो ईवीएम की जरूरत पड़ेगी ही।

बता दें कि एक ईवीएम में 16 बटन ही होते हैं। यानि 16 प्रत्याशियों के नाम और उनके चुनाव चिह्न फीड किए जा सकते हैं। इनमें एक नोटा का बटन होता है। प्रत्याशियों की संख्या 15 से ज्यादा होने पर दूसरी ईवीएम की जरूरत पड़ती है। मिर्जापुर में पहले ही दिन 32 लोगों ने नाम निर्देशन पत्र खरीद लिए। अभी यह सिलसिला नामांकन की आखिरी तारीख 14 मई तक जारी रह सकता है।

मिर्जापुर संसदीय सीट में नामांकन पत्रों की जांच 15 मई को होगी। नाम वापसी के लिए 17 मई की तारीख तय है। मतदान पहली जून को होगा। यहां का चुनाव सातवें यानि अंतिम चरण में हो रहा है।

जानिए ईवीएम के बारे में

इसका निर्माण भारत की दो कंपनियों में ही होता है। एक भारत इलेक्ट्रिकानिक्स लिमिटेड (बीईएल) और दूसरी है इलेक्ट्रानिक्स कारपोरेशन आफ इंडिया लिमिटेड (ईसीआइएल)। जरूरत का 50-50 प्रतिशत हिस्सा दोनों कंपनियों में तैयार होता है। शुरू में माडल एक (एम-1), माडल दो (एम-2) के रूप में तैयार होती थी। उस समय क्षमता थोड़ी कम थी। एक कंट्रोल यूनिट से 4 बैलेट यूनिय जोड़े जा सकते थे। यानी अधिकतम 64 प्रत्याशियों के लिए मतदान हो सकता था। पिछले कुछ चुनावों से क्षमता बढ़ गई है। अब मैं माडल तीन (एम-3) आ गया है।

अब एक सीयू में 24 बीयू लग सकते हैं। एक बीयू में 16 प्रत्याशियों के नाम भरे जा सकते हैं। इस तरह एक बार में मैं 384 प्रत्याशियों के नाम समाहित किया जा सकता है। लोकसभा व विधानसभा चुनावों में एम 3 का ही प्रयोग हो रहा है। एम 1, एम 2 नगर निकायों में प्रयोग किए जाते हैं।

मिर्जापुर संसदीय सीट के लिए पहले दिन पर्चा खरीदने वाले लोगों के नाम

अशोक कुमार सिंह, सुरेश चंद्र, दौलत राम, जगदीश, श्यामू कुमार बिंद, विजय कुमार, दौलत सिंह, सत्यदेव पांडेय, अनिल कुमार विश्वकर्मा, अरुण कुमार गुप्ता, राजा बाबू, भुक्खल, वेंकटरमन, राजेंद्र श्यामलाल बिंद, आशीष कुमार पांडेय, गुलाब, प्रमिला बिंद, रमेश चंद्र, दिलीप कुमार, रामसागर बिंद, विष्णु प्रसाद सिंह पटेल, मनीष कुमार तिवारी, संदीप कुमार, महादेव, राजेश कुमार प्रजापति, रामसागर पाल, रामधनी, पंकज कुमार द्विवेदी, डॉ. अखिलेश कुमार द्विवेदी, भोलानाथ, मानिक चंद्र तिवारी, समीर सिंह ने पहले दिन नाम निर्देशन पत्र खरीदे। इनमें 17 निर्दल हैं।

 

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.