July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

पूर्वांचल की विभूतियों का जौनपुर में सम्मान

Sachchi Baten

समाजसेवी व अपना दल एस नेता पप्पू माली ‘पूर्वांचल गौरव’ सम्मान से सम्मानित

 

चैरिटी संस्था द्वारिका माई ने किया बरबसपुर परियावां में सम्मान समारोह का आयोजन

समारोह में 30 विभूतियों को ‘पूर्वांचल गौरव’ से किया गया सम्मानित

जौनपुर, 24 मई (सच्ची बातें)। जनपद के बरबसपुर परियावां में 23 मई की शाम ‘पूर्वांचल गौरव’ सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इसका आयोजन चैरिटी संस्था द्वारिका माई के तत्वावधान में किया गया था। इसमें पूर्वांचल की 30 विभूतियों को पूर्वांचल गौरव सम्मान से नवाजा गया। संस्था के अध्यक्ष गौरीशंकर चौबे ने कार्यक्रम का निर्देशन किया।

इसमें मुख्य अतिथि अपना दल एस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव पप्पू माली ने भगवान गणेश की प्रतिमा के समक्ष पूजा अर्चना एवं दीप प्रज्वलन करके कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथियों तथा विभिन्न क्षेत्रों में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने वाले कलाकारों, प्रतिभाओं एवं जनप्रतिनिधियों का पूर्वांचल गौरव सम्मान के साथ स्मृति चिन्ह, पुष्पगुच्छ, अंगवस्त्रम भेंट एवं माल्यार्पण करके सम्मानित किया गया।

श्री माली ने कहा कि ऐसे सम्मान समारोह के आयोजन से विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े कलाकारों एवं प्रतिभाओं में निखार आता है। क्षेत्र और समाज के अन्य लोग भी बेहतर करने की कोशिश करते हैं और सकारात्मक दिशा में ऊंचाई की बुलंदियों पर पहुंचते हैं।

राष्ट्रीय सचिव ने समाज के निर्माण में तथा राष्ट्र को मजबूती प्रदान करने की दिशा में किए जा रहे कार्यक्रम की जमकर तारीफ की। उपस्थित अतिथियों व आगंतुकों तथा आम जनमानस से आह्वान किया कि नई पीढ़ी को उनके लक्ष्य की प्राप्ति में सहयोग किया जाए, ताकि देश तरक्की करे।

मुख्य वक्ता शिवसेना ( शिंदे गुट) के राष्ट्रीय प्रवक्ता गुलाब चंद दुबे ने कहा कि इस सम्मान समारोह का सकारात्मक संदेश संपूर्ण समाज में जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रतिभाओं का सम्मान करके ही राष्ट्र उन्नति कर सकता है।

विशिष्ट अतिथि रत्नाकर चौबे ने कहा कि ऐसे आयोजन का सामाजिक उत्थान की दिशा में किया गया प्रयास अत्यंत सार्थक एवं सराहनीय है। विशिष्ट अतिथि के सपा जिलाध्यक्ष डॉ. अवध नाथ पाल ने इस समारोह को ऐतिहासिक बताया जिसमें सबको बराबर का सम्मान प्रदान किया गया।  समाज की युवा पीढ़ी और अन्य संगठन भी ऐसे कार्यक्रम से प्रेरणा लेंगे।

सपा की पूर्व विधायक श्रद्धा यादव ने कहा कि प्रतिभाओं का सम्मान किए बगैर देश की दशा और दिशा नहीं बदल सकती। भोजपुरी सम्राट रविंद्र सिंह ज्योति ने अपने गीतों से उपस्थित श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया।

सम्मान समारोह का सबसे भावुक पल वह रहा, जब शहीद आशुतोष यादव को उनके सर्वोच्च बलिदान के लिए पूरा सभागृह खड़े होकर वंदे मातरम तथा भारत माता की जय के नारे के साथ गमगीन आंखों से पूर्वान्चल गौरव सम्मान से से नवाजा गया। यह सम्मान उनकी माता जी द्वारा लिया गया।
अन्य जो 29 विशिष्ट विभूतियों को सम्मानित किया गया, उनमें अधिवक्ता प्रीति दुबे (सामाजिक), हौसिला प्रसाद पाल (समाजसेवक), राम अभिलाष पाल (शिक्षक), कैलाशनाथ मिश्रा (गायक), मास्टर यशवर्धन सिंह (विशिष्ट प्रतिभा), डॉ. भूपेश कुमार यादव (डॉक्टर), रविन्द्र सिंह ज्योति (गायक),  राजेश पांडे (पुलिस),  राजन त्रिपाठी (समाज सेवक),  राम आशीष यादव (क्रीड़ा),  गुलाबचंद दुबे (समाजसेवक),  राम सजन यादव (क्रीड़ा), श्रीमती वर्षा राजे (क्रीड़ा), सर्वेश कुमार (समाजसेवक), कुलदीप कुमार कन्नौजिया (समाज सेवक), डॉ. नीलेश पासी (चिकित्सा), राजेन्द्र कुमार (सरकारी विभाग), राजेश कुमार (शिक्षक), देव सरन सिंह (फौज), मोहम्मद रिजवान (विद्यार्थी), अंकित पाल (विलक्षण प्रतिभा), श्रीमती पूजा दुबे (शिक्षक), मछिन्द्रनाथ निषाद (आत्म रक्षा गुरु), डॉ. अब्बाशी (समाजसेवक), प्रेमशंकर द्विवेदी (लेखक), अंकित दुबे (समाजसेवक), रमेश चंद्र मौर्या (समाजसेवक), डॉ. आलोक सिंह पालिवाल (पशु चिकित्सा) एवं जितेंद्र मौर्य (खेल प्रशिक्षक) शामिल हैं। संचालन बलवंत वर्मा तथा दिलीप पाल की टीम ने किया।

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.