July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

बिजल ग्रीन एनर्जी की अमेरिकी पार्टनर कंपनी के अफसर पहुंचे सक्तेशगढ़

Sachchi Baten

चुनार के रामपुर सक्तेशगढ़ में है बिजल ग्रीन एनर्जी का प्लांट

-अमेरिकी पार्टनर कंपनी का नाम है एग्री फ्यूल ग्रुप

सक्तेशगढ़/चुनार, मिर्जापुर (सच्ची बातें)। विश्व में बायोमास से हाइड्रोजन उत्पादन की अग्रणी भारतीय कंपनी बिजल ग्रीन एनर्जी की अमरीकी पार्टनर कंपनी एग्री-फ्यूल ग्रुप के सदस्यों ने प्लांट का निरीक्षण किया। बिजल ग्रीन एनर्जी की प्लांट चुनार के रामपुर सक्तेशगढ़ में है।

बिजल की तकनीक से प्रभावित होकर एग्री-फ्यूल ग्रुप एक अमरीकी कंपनी ने अमरीका में इस तरह के प्लांट लगाने के लिए बिजल ग्रीन एनर्जी से करार किया है। अमरीका में तमाम औपचारिकताओं को पूरा करते हुए इस साल के अंत तक हाइड्रोजन उत्पादन के प्लांट के निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी।

 

दोनों कंपनियों के बीच करार पर हस्ताक्षर होने के बाद अमेरिकी दल का यह पहला चार दिवसीय दौरा है। दौरे पर आने से पहले ही अमेरिका से विभिन्न प्रकार के बायोमास की एक खेप बिजल के प्लांट पर परीक्षण के लिए भेजी गई थी।

नरायनपुर विकास खंड के नियामतपुर कलॉ गांव निवासी बिजल के संस्थापक व आइआइटी बीएचयू के सिरेमिक विभाग के एसोसिएट प्रो. हाइड्रोजन वैज्ञानिक डॉ. प्रीतम सिंह ने बताया कि अमेरिका का यह दल यहां चार दिवसीय दौरे पर आया है। इसका मुख्य उद्देश्य इस तरह प्लांट के लगाने के लिए किस तरह की तैयारियां करनी हैं। उसका व्यक्तिगत अवलोकन करने प्लांट पर यह टीम पहुंची है।

 

 

उन्होंने बताया कि अमेरिका से आए हुए बायोमास का अपने टाड रिएक्टर्स में परीक्षण किया गया, जिसका नतीजा काफी अच्छा रहा। यह बायोमास हाइड्रोजन उत्पादन के लिए सबसे उपयुक्त विकल्पों में से एक साबित हुआ। इस अमरीकी सहयोगी कंपनी में तमाम अनुभवी लोग हैं, जिन्हें कई वर्षों के वैश्विक कारोबार का तजुर्बा है। इनके सहयोग से हम अमेरिका में अपनी तकनीक का तेजी से प्रसार कर सकते हैं।

अमेरिकी एग्री-फ्यूल ग्रुप के वरिष्ठ सदस्य डोनाल्ड ब्रूस ने बताया कि यहां आने से पहले उनके दिमाग में तरह तरह के प्रश्न थे, जिन्हें व्यक्तिगत रूप से डॉ. प्रीतम सिंह एवं उनकी टीम ने सुलझाने में मदद की। अपनी आंखों के सामने हाइड्रोजन, सीएनजी एवं बायोकोल का सजीव उत्पादन देखना एक रोमांचक क्षण था।

हमारे द्वारा परीक्षण के लिए भेजे गए बायोमास के शानदार नतीजों ने हमारे उत्साह को दोगुना कर दिया है। हम अमेरिका में इसकी अगली यूनिट को लगाने के त्वरित प्रयास करेंगे तथा इसके लिए जो भी कानूनी औपचारिकताएं बची हैं, उन्हें जल्द निबटाने का प्रयास करेंगे।

एग्री-फ्यूल के संस्थापक सदस्यों में एक भारतीय-अमरीकी व्यवसायी निर्मल खन्ना ने इस सफल दौरे के लिए बिजल की टीम का शुक्रिया अदा किया। बिजल के निदेशक नियामतपुर कलॉ गांव निवासी दौलत सिंह ने प्लांट के दौरे पर आने के लिए एग्री-फ्यूल ग्रुप के सदस्यों का स्वागत किया और अमेरिका में दोनों कंपनियों के संयुक्त प्रसार के लिए शुभकामनाएं दीं। इस दौरान एग्री-फ्यूल ग्रुप की तरफ से माइकल ब्रूस, डेविड एवं बिजल के निदेशक डॉ. नीरज मिश्रा, महातिम सिंह, संजय कुमार सिंह, नावेद इकबाल एवं तकनीकी टीम मौजूद रही।


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.