July 20, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

MIRZAPUR: मिर्जापुर में डीएम का फुल फार्म डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट नहीं, लोग बताने लगे हैं दिव्या मित्तल

Sachchi Baten

अब लोहंदी नदी को साफ करने का उठाया बीड़ा

 

मजदूरों संग खुद फावड़ा चलाकर कार्य का किया शुभारंभ

राजेश पटेल, मिर्जापुर (सच्ची बातें)। मिर्जापुर में अब डीएम का फुल फार्म डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट नहीं, दिव्या मित्तल बताया जाने लगा है। इसलिए कि मिर्जापुर की डीएम दिव्या मित्तल की सरलता और कार्य करने के तरीके के सभी कायल हो चुके हैं। कुछ लोग डायनमिक डीएम भी कह रहे हैं।

दिव्या मित्तल ने जब से जिलाधिकारी का पद मिर्जापुर में संभाला है, तब से वह यहां की समस्याओं को दूर करने में जुटी हैं। आम जनता से मिलने का तरीका भी उनकी बहुत शालीन है। जनता दर्शन कार्यक्रम में वह अपनी चेयर छोड़कर खुद हर फरियादी के पास जाती हैं, और उसकी समस्याओं के ध्यान से सुनती हैं। जरूरत पड़ने पर तुरंत संबंधित अधिकारी को फोन भी करती हैं।

इतना ही नहीं, कभी-कभी फरियादी के पास ही जमीन पर बैठ भी जाती हैं। जबकि फरियादी कुर्सी पर बैठा होता है। सड़क दुर्घटना व लू से बचने के उपाय को भी वीडिओ संदेश के माध्यम से बताती हैं।

वह जितनी जनता की समस्याओं के सलटाने में जितनी सरल दिखती हैं, भ्रष्ट, कामचोर अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए उतनी ही कड़क भी हैं। अभी तहसीलदार से लेकर लेखपाल तक पांच अधिकारियों व कर्मचारियों को सस्पेंड ही नहीं किया, उनके खिलाफ थाने में प्राथमिकी भी दर्ज कराई। कारण, गलत तरीके से जमीन का नामांतरण।

हर क्षेत्र में उनकी नजर रहती है। अभी हाल ही में उन्होंने शहर के दक्षिणी सिरे पर बहने वाली लोहंदी नदी के कायाकल्प का काम शुरू कराया है। उन्होंने कार्य की शुरुआत के समय मनरेगा मजदूरों के साथ खुद फावड़ा चलाया।

ग्राम पंचायत बरकछा खुर्द के अटारी बार्डर के पास से भोकवा नाला से निकली हुयी प्राकृतिक लोहंदी नदी 11 ग्राम पंचायतों छीतपुर, नकहरा, सिरसी बघेल, सिरसी गहरवार, चन्दईपुर, लोहंदी खुर्द, लोहंदी कला, गोपालपुर, राजापुर, बसही व कंतित से होते हुये लगभग 18.8 किलोमीटर की दूरी तय करते हुये गंगा नदी में जाकर मिलती है।

नदी का प्राकृतिक जल स्रोत भोकवा नाला के अतिरिक्त विकास खण्ड के सामने पाताल तोड़ कूप व लोहंदी महावीर के पास 11 तख्वा पुल के पास स्थित कूप से अनवरत पानी भारी मात्रा में निकलते हुये नदी में जल स्रोत बनाये रखने की अहम भूमिका थी, परन्तु जल स्तर नीचे चले जाने के कारण प्राकृतिक रूप से जल स्रोत कम होने के फलस्वरूप नदी में पाट, झाड़ी आदि होने जाने के कारण नदी के पानी का बहाव नही हो पा रहा था।

विभिन्न सूत्रों से जिलाधिकारी को इस नदी के बारे में जानकारी प्राप्त होने पर जल स्रोत को बनाये रखने एवं नदी की साफ सफाई के लिये जिलाधिकारी द्वारा इस नदी के जीर्णोद्धार का बीड़ा उठाया गया। तत्पश्चात जीर्णोद्धार का कार्य मनरेगा, पंचम राज्य वित्त, श्रमदान व जन प्रतिनधियों आदि के सहयोग से होगा।
जिलाधिकारी ने बताया कि मनरेगा व पंचम राज्य वित्त के तहत कार्य कराया जायेगा। जिसमें लगभग रू0 01.25 करोड़ व्यय होने की सम्भावना है। जिसमें 46600 मानव दिवस का उपयोग करते हुये 40 दिन में कार्य को पूर्ण करा लिया जायेगा। इस लोहंदी नदी के पुनर्जीवित करने का कार्यक्रम जिला प्रशासन के तत्वाधान में सभी ग्रामीणों के द्वारा किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि सीमित संसाधनों के होते हुये भी ऐसे कार्यक्रमों को चिहिन्त करके कराया जायेगा। उम्मीद है लोग ऐसे जुड़ते रहे और अपने संसाधनों से भी श्रमदान करते हुये छोटी-छोटी नदियों को पुर्नजीवित करने का कार्य करेंगे। इसके पूर्व भी कर्णावती नदी का जीर्णोद्धार कराया गया था। जिससे उस क्षेत्र के लोगो को लाभ मिल रहा है। उन्होने कहा कि हमारी आने वाले पीढ़ी व बच्चों के कल के लिये बहुत आवश्यक है कि नदियों को पुर्नजीवित रखें। नदियों के जीर्णोद्धार का कार्य पुण्य का भी काम है।

सड़क दुर्घटना में तीन बच्चों की मौत पर डीएम पहुंचीं कुबरी 

पटेहरा विकास खण्ड के ग्राम कुबरी मोड़ पर 22 जून को मोटरसाइकिल अनियंत्रित होने से नहर में गिरने से तीन युवकों के निधन पर जिलाधिकारी दिव्या मित्तल ने गहरा शोक व्यक्त किया। जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ घटना स्थल पर पहुंचकर निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान ग्राम कुबरी के नहर तिराहे के मोड़ पर दुर्घटना रोकने के दृष्टिगत रेफ्लेक्टर साइन बोर्ड, डेमिनेटर व स्पीड ब्रेकर लगाने का निर्देश अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग निर्माण खण्ड को दिया। उन्होने कहा कि अधिकतम दो दिवस के अन्दर यह कार्य पूर्ण कराना सुनिश्चित करें, ताकि सामने से आने वाले लोगों को मोड़ दिखायी पड़े तथा दुर्घटना को रोका जा सकें।

नवरात्र मेला, गंगा दशहरा के सफल आयोजन के साथ ही गंगा घाटों को चमकाने की दिशा में भी डायनमिक डीएम दिव्या मित्तल प्रयासरत हैं।

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

2 Comments
  1. I’ve been browsing online more than three hours today, yet I
    never found any interesting article like yours. It is pretty worth
    enough for me. In my view, if all webmasters and bloggers made good
    content as you did, the web will be much more useful than ever before.

  2. […] MIRZAPUR: मिर्जापुर में डीएम का फुल फार्म डि… […]

Leave A Reply

Your email address will not be published.