July 19, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

लोकसभा चुनाव 2024ः पचीस हजार के सिक्के लेकर गए थे नामांकन फॉर्म लेने

Sachchi Baten

नहीं दिया फॉर्म, सोमवार को नोट लेकर आने को कहा

Bilaspur News: लोकसभा चुनाव 2024 के लिए छत्तीसगढ़ में तीसरे चरण के लिए शुक्रवार से नामांकन प्रक्रिया शुरू हुई। पहले दिन एक निर्दलीय अभ्यर्थी नाम निर्देशन पत्र लेने निर्धारित शुल्क 25 हजार रुपये के सिक्के लेकर पहुंचा। कर्मचारी उसे अधिकारियों के पास भेजकर चक्कर लगवाते रहे। एक अधिकारी ने हामी भर दी, लेकिन दोपहर 3 बजे उसे सिक्के लेने का प्रावधान नहीं होने का हवाला देकर नाम निर्देशन दिए बिना ही लौटा दिया गया। 25 खोली निवासी अनिलेश मिश्रा एलआईसी एजेंट हैं। शुक्रवार को नाम निर्देशन पत्र लेने और जमा करने के पहले दिन वे सुबह 10 बजे कलेक्ट्रेेट पहुंचे।
सामान्य वर्ग के लिए निर्धारित 25 हजार रुपये शुल्क के लिए वे 25 हजार रुपये 1, 2 और 5 रुपए के सिक्के के रूप में लेकर आए थे। 11 बजे वे सिक्के देकर नाम निर्देशन पत्र लेने की बात कही, जिस पर कर्मचारियों ने आयोग के आदेशों का हवाला देकर सिक्के नहीं लेने की बात कहकर निर्वाचन अधिकारी के पास भेजा। अनिलेश कलेक्टर के पास पहुंचकर सिक्के नहीं लेने की शिकायत की।
कलेक्टर अवनीश शरण ने अनिलेश को उप निर्वाचन अधिकारी शिव कुमार बैनर्जी के पास भेज दिया। बैनर्जी ने अनिलेश को सिक्के लेकर नाम निर्देशन पत्र देने का आश्वासन देकर कलेक्टोरेट परिसर में नाम निर्देशन पत्र लेने भेज दिया। इसके बाद अनिलेश कलेक्टोरेट के बाहर वाहन में दो बोरियों और एक थैले में रखे सिक्कों को लेकर कलेक्टोरेट परिसर पहुंचे। यहां पुलिस कर्मियों ने उनकी जांच की और अंदर प्रवेश दिया। काउंटर पर जाने के बाद कर्मचारियों ने नियम कायदों का फिर से हवाला दिया और सोमवार को नोट लेकर आने की बात कहकर बिना नाम निर्देशन पत्र दिए बैरंग लौटा दिया।
विधानसभा चुनाव में भी 10 हजार के सिक्के किए थे जमा
अनिलेश ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में विधानसभा चुनाव 2023 में नामांकन दाखिल किया था और नाम निर्देशन पत्र जमा करने की राशि 10 हजार रुपये उन्होंने सिक्के के रूप में जमा किए थे।

Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.