July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

जानिए आदिवासी विकास समिति के कार्यक्रम में क्या बोलीं अनुप्रिया पटेल

Sachchi Baten

भारत के इतिहास में गुरुभक्ति के सबसे बड़े उदाहरण हैं वीर एकलव्य: अनुप्रिया पटेल

-केंद्रीय मंत्री ने कहा- आदिवासी समाज के गौरव को पुनर्जीवित करने के अनेक प्रयास कर रहे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

-आदिवासी विकास समिति द्वारा वीर एकलव्य स्थापना दिवस समारोह का हुआ आयोजन

मिर्जापुर (सच्ची बातें)। “भारतीय समाज में गुरु का स्थान सर्वोपरि होता है और गुरु भक्ति का भारत के इतिहास में सबसे बड़े उदाहरण हैं वीर एकलव्य जी।”  केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने जनपद के हलिया विकास खंड के पुरवा ओसान सिंह, चक कोटार गांव में वीर एकलव्य नव युवक कोल आदिवासी विकास समिति द्वारा शनिवार को आयोजित वीर एकलव्य स्थापना दिवस समारोह के दौरान यह विचार व्यक्त किया। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि पूर्व दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री मनीराम कोल व छानबे विधायक रिंकी कोल उपस्थित रहीं।

बतौर मुख्य अतिथि केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि गुरु भक्ति की पराकाष्ठा वीर एकलव्य हैं, जिन्होंने गुरु दक्षिणा में अपना अंगूठा अपने गुरु को भेंट कर दिया और उफ़ तक नहीं किया। उन्होंने कहा कि सच में त्याग और तपस्या से ही कोई महापुरुष बनता है और हम उन्हें पूजते हैं।

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आदिवासी समाज के गौरव को पुनर्जीवित करने के लिए अनेक प्रयास कर रहे हैं। इसी के तहत प्रधानमंत्री ने भगवान बिरसा मुंडा के गांव उलिहातु से आदिवासी गौरव सम्मान का शुभारंभ किया। इसके जरिए हमारी सरकार द्वारा आदिवासी समाज की संस्कृति और आदिवासी महापुरुषों के त्याग व बलिदान को बताया जा रहा है। आदिवासी समाज के बच्चों की शिक्षा के लिए एकलव्य मॉडल रेजिडेंशियल स्कूल स्थापित किए जा रहे हैं। अब तक देश में 400 स्कूल स्थापित हो चुके हैं।

इसके अलावा आदिवासी समाज की संस्कृति एवं गौरवगाथा को स्थापित करने के लिए जनजातीय संग्रहालय बनाये जा रहे हैं। इनमें से एक संग्रहालय हमारे मिर्जापुर में भी स्थापित करने के लिए स्वीकृति मिली है। उन्होंने कहा कि कोल समाज को उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जनजाति का दर्जा प्रदान करने के लिए मैं लोकसभा में दो बार उठा चुकी हूँ।

इस दौरान समिति के संरक्षक राम लल्लू कोल, अध्यक्ष एडवोकेट रामू कोल, प्रबंधक व जोन अध्यक्ष जनार्दन कोल, मायाराम कोल, धर्मराज कोल, अजेश कोल सहित राष्ट्रीय महासचिव रमाशंकर सिंह पटेल, राष्ट्रीय सचिव किसान मंच रमाकांत पटेल, प्रदेश महासचिव शिक्षक मंच लाल बहादुर पटेल, प्रमुख प्रतिनिधि जग प्रकाश कोल, प्रदेश सचिव रामवृक्ष बिंद, जिला मीडिया प्रभारी शंकर सिंह चौहान, प्रदेश छात्र मंच दिलीप सिंह पटेल, जोन अध्यक्ष अखिलेश बिंद, जोन अध्यक्ष राजेश मौर्य, जोन अध्यक्ष डॉ, श्याम कुशवाह, शशिकांत सिंह, विकास सोनकर, मार्तंड सिंह, सुजीत सिंह गहरवार, बीपी पटेल, शिवनारायण पटेल, कुंवर बहादुर चौहान आदि उपस्थित थे।


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.