July 16, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

#HEALTH : पोषण का पॉवर हाउस है ‘फिंगर मिलेट’ रागी

Sachchi Baten

प्रोटीन, डाइयट्री फाइबर, विटामिन और खनिजों का एक खजाना है रागी (मड़ुआ)

 

“फिंगर मिलेट”, जिसे रागी या मड़ुआ के नाम से भी जाना जाता है, एक प्रकार की अनाज की फसल है, जिसे सदियों से अफ्रीका और एशिया में उगाया और खाया जाता रहा है। यह अनाज पोषण का एक पॉवरहाउस है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। इस लेख में, हम रागी के पोषण मूल्य, स्वास्थ्य लाभ, उपयोग करने के तरीके और रागी से बने व्यंजनों के बारे में जानेंगे।

पोषण मूल्य : रागी प्रोटीन, डाइयट्री फाइबर, विटामिन और खनिजों का एक खजाना है। इसमें कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम, मैग्नीशियम और जिंक होता है। यह ग्लूटेन मुक्त भी है, जिससे यह ग्लूटेन के प्रति संवेदनशील (ग्लूटेन एलेर्जी) लोगों के लिए एक बढ़िया विकल्प हैं।

स्वास्थ्य लाभ :

हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा : रागी कैल्शियम का एक उत्कृष्ट स्रोत है और स्वस्थ हड्डियों के विकास और रखरखाव में मदद करता है।

रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है: रागी में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जो इसे मधुमेह वाले लोगों के लिए एक आदर्श भोजन बनाता है। यह स्थिर रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है।

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर : रागी एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है जो शरीर को मुक्त कणों से होने वाले नुकसान से बचाता है और क्रोनिक बीमारियों के जोखिम को कम करता है।

वजन घटाने में सहायक : रागी में उच्च फाइबर और कम कैलोरी होती है, जो इसे वजन घटाने के लिए एक आदर्श भोजन बनाता है। यह आपको अधिक समय तक भरा हुआ रखता है और अस्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थों को खाने की इच्छा को कम करता है।

रागी का उपयोग कैसे करें : रागी का उपयोग कई तरह से किया जा सकता है। यहाँ रागी का उपयोग करने के कुछ तरीके दिए गए हैं:

दलिया बनाएं : रागी का दलिया अफ्रीका और एशिया के कई हिस्सों में नाश्ते का एक लोकप्रिय विकल्प है। इसे बनाना आसान है और यह आपके दिन की शुरुआत करने का एक शानदार तरीका है।

बेकिंग : बेकिंग में रागी के आटे का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसका उपयोग ब्रेड, मफिन और केक बनाने के लिए किया जा सकता है।

रोटी बनाएं : रागी के आटे का उपयोग रोटी बनाने के लिए किया जा सकता है, जो भारत में एक मुख्य भोजन है।

रागी से बने व्यंजन:

Ragi mudde : Ragi mudde कर्नाटक, भारत में एक लोकप्रिय व्यंजन है। इसे रागी के आटे को पानी में पकाकर छोटे-छोटे गोले बनाकर बनाया जाता है। यह आमतौर पर मसालेदार करी के साथ परोसा जाता है।

रागी डोसा : रागी डोसा एक स्वस्थ और स्वादिष्ट नाश्ते का विकल्प है। इसके आटे को पानी के साथ मिलाकर रात भर बैटर को फरमेंट होने के लिए रखा जाता है। फिर इसे नियमित डोसे की तरह पकाया जाता है।

रागी कुकीज: रागी कुकीज एक हेल्दी और स्वादिष्ट स्नैक विकल्प है। इन्हें आटे को मक्खन, चीनी और बेकिंग पाउडर के साथ मिलाकर बनाया जाता है। इसके बाद आटे की छोटी-छोटी गोलियां बनाकर ओवन में बेक किया जाता है। झारखंड व बिहार में भी इसकी खेती की जाती है।

अंत में, रागी एक पौष्टिक और बहुमुखी अनाज है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। इसका उपयोग विभिन्न तरीकों से किया जा सकता है और यह किसी भी अन्य आहार से अतिरिक्त अच्छा विकल्प है। यदि आपने अभी तक रागी का सेवन नहीं किया है, तो इसे आजमाएँ और देखें कि यह आपके स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव डाल सकता है।
-साभार Crazy gardener


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.