July 23, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

आशीष पटेल को समय से पता न चलता तो 3 निर्दोषों को पुलिस बना देती हत्यारा

Sachchi Baten

सूबे के मंत्री आशीष पटेल ने जौनपुर एसपी से की बात, तब थाना से छोड़े गए गवाह

-मामला जौनपुर जिले के मछली शहर कोतवाली का

-वैचारिक शिक्षक संघ ने कैबिनेट मंत्री आशीष पटेल का जताया आभार

मिर्जापुर (सच्ची बातें)। जौनपुर जनपद के मछली शहर कोतवाली की पुलिस हत्या के मामले में गवाहों को ही हत्यारा बनाने में जुट गई। यह तो अच्छा हुआ कि समय से इसकी जानकारी प्रदेश के मंत्री आशीष पटेल को मिल गई। उन्होंने जौनपुर एसपी से बात कर मछली शहर कोतवाली की पुलिस की साजिश को विफल कर दिया।

वैचारिक शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष डॉ. ज्ञान प्रकाश सिंह ने बताया है कि उनके संगठन के क्रांतिकारी पदाधिकारी मनीष कुमार सिंह के जीजा प्रशांत सिंह हैं। वह मछली शहर कोतवाली क्षेत्र में ही रहते हैं। हाल ही में हत्या की एक घटना हुई थी। घटना स्थल पर सबसे पहले प्रशांत सिंह पहुंचे।

उन्होंने अन्य लोगों के साथ घायल को अस्पताल पहुंचाया। मृतक के परिजनों ने प्रशांत सिंह को मामले में गवाह बना दिया। अब मछलीशहर कोतवाली के कोतवाल ने प्रशांत सिंह और दो अन्य को दो दिन से थाने पर बैठाए रखा। इस दौरान पता चला कि उनको ही हत्या के मामले  में साजिशकर्ता बनाने की पुलिस की योजना थी।

प्रशांत व दो अन्य लोगों को छोड़ने के लिए कोतवाल के पास कई संभ्रांत लोगों ने फोन किया, लेकिन वह छोड़ने को राजी नहीं थे। लिहाजा डॉ. ज्ञान प्रकाश सिंह संघ के साथियों के साथ मछलीशहर के लिए निकल लिए। रास्ते में उन्होंने प्राविधिक शिक्षा, उपभोक्ता संरक्षण और बाट माप मंत्री आशीष पटेल को मैसेज करके मामले की जानकारी दी।

उन्होंने तत्काल संज्ञान में लेते हुए एसपी जौनपुर को दो बार फोन किया। उन्होंने एसपी हिदायत दी किसी निर्दोष को न फंसाया जाए, इसे आप सुनिश्चित करें। इसके बाद प्रशांत सिंह समेत तीनों व्यक्तियों को थाना से छोड़ दिया गया। डॉ. ज्ञान प्रकाश सिंह इसके लिए मंत्री आशीष पटेल के प्रति आभार जताया है।

 

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.