July 16, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

MIRZAPUR : पीडब्ल्यूडी के लिए सौभाग्य है सूखा, पढ़िए कैसे…

Sachchi Baten

जमालपुर ब्लॉक में ओड़ी-देवरिल्ला मार्ग के मुर्दहवा नाला पर पुल निर्माण दो साल में भी पूरा नहीं हुआ

-दो साल से पड़ रहा है सूखा, वरना आधा दर्जन गावों के लोग बरसात में कैद हो जाते

-निर्माण में गुणवत्ता के साथ खिलवाड़ के साथ बनाने में भी की जा रही है देर

-जनप्रतिनिधियों की उदासीनता का खामियाजा भुगत रहे हैं ग्रामीण

जमालपुर, मिर्जापुर (सच्ची बातें)। ओड़ी-देवरिल्ला मार्ग पर मुर्दहवा नाला का पुल कब तक बनकर तैयार होगा। जमालपुर की  जनता जानना चाहती है। दो साल से सूखा पड़ रहा है, नहीं तो बरसात के दिनों में आधा दर्जन गावों के लोगों का ब्लॉक मुख्यालय से संपर्क टूट जाता। किसान खेती नहीं कर पाते। क्योंकि लोढ़वा और ओड़ी के कई किसानों का खेत भभौरा मौजा में है। इनके लिए आने-जाने का एकमात्र रास्ता मुर्दहवा होकर ही है।

पहले इस नाला पर रपटा था। बरसात में रपटा से ऊपर पानी बहने लगता था। स्थानीय सांसद केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के पति आशीष पटेल (उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री) एक दिन इधर से गुजर रहे थे तो उन्होंने रपटा के स्थान पर पुल बनवाने के लिए शासन में पत्र लिखा। पुल की स्वीकृति हो गई। वर्ष 2021 में ही इसका निर्माण भी शुरू हो गया। दूसरी बरसात का  मौसम भी बीतने वाला है। अभी तक पुल वाहनों के आवागमन लायक नहीं बन सका है।

लोक निर्माण विभाग निर्माण खंड दो द्वारा इसे बनवाया जा रहा है। कुछ दिन काम होता है, फिर बंद हो जाता है। इसका डायवर्जन भी ठीक से नहीं बनाया गया है। बारिश होने पर बाइक सवार फिसल कर गिरते रहते हैं।

गत पहली अगस्त को सच्ची बातें के रिपोर्टर ने अधिशासी अभियंता देव पाल के कार्यालय मेंं जाकर उनसे पूछा तो इसके निर्माण की प्रगति की जानकारी उनके पास नहीं थी।  उन्होंने तुरंंत अवर अभियंता बीके पांडेय को फोन लगाकर पूछा। पांडेय ने क्या कहा, यह तो नहीं पता, लेकिन अधिशासी अभियंता ने कहा जेई से कहा कि तुम्हारा सौभाग्य है कि सूखा पड़ा है। थोड़ा सा काम बचा है, उसे बारिश के पहले पूरा करा लो। इसके बाद अधिशासी अभियंता ने आश्वस्त किया कि 15 दिन में पुल से वाहनों का आवागमन शुरू हो जाएगा।

16 अगस्त को उनसे फिर फोन से बात की गई तो लगे घुमाने। ठीकेदार को दोष देने लगे। कहा कि विभाग का काम ऐसे ही होता है। कितनी सख्ती की जाए। बहरहाल इस पुल के निर्माण को लेकर न तो सांसद, और न ही विधायक कोई दिलचस्पी दिखा रहे हैं। शायद इसीलिए अधिशासी अभियंता पर कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। सूखा पड़ने से लोग डायवर्जन से अपने वाहनों को लेकर आ-जा रहे हैं।

अभी भी भारी बारिश हो जाए तो भभौरा, देवरिल्ला, ढेबरा, ढेलवासपुर, बनौली, गुलौरी, मनई आदि गांवों का संपर्क ब्लॉक मुख्यालय से कट जाएगा। अस्पताल जाने के लिए चरगोड़ा, बहुआर के रास्ते जाना होगा।

क्या बोले अधिशासी अभियंता

अधिशासी अभियंता देव पाल ने कहा कि ठीकेदार के खिलाफ अब कानूनी कार्रवाई होने जा रही है। सबसे पहले उसकी जमानत राशि जब्त करने की प्रक्रिया की जा रही है। इसके बाद आगे भी जो कार्रवाई होगी, की जाएगी।


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.