July 16, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

पर्यावरण योद्धाओं को पटना के यूथ हॉस्टल में सम्मानित किया जाएगा 8 अक्टूबर को

Sachchi Baten

 

पीपल, नीम, तुलसी अभियान आयोजित कर रहा है कार्यक्रम

पटना (सच्ची बातें)। पीपल, नीम, तुलसी अभियान के तत्वावधान में आठ अक्टूबर को पटना में पर्यावरण योद्धाओं की जुटान होगी। इनको यूथ हॉस्टल में पर्यावरण योद्धा सम्मान से नवाजा जाएगा। पीपल, नीम, तुलसी अभियान की अगुवाई पटना के ही डॉ. धर्मेंद्र कुमार करते हैं।

इस दिन पर्यावरण गोष्ठी भी आयोजित की जाएगी। सम्मान समारोह में सम्मानित किए जाने वाले देश के विभिन्न शहरों को पर्यावरण योद्धा होंगे। कार्यक्रम में सिर्फ पौधे लगाने वाले नहीं, किसी भी तरह से पौधरोपण को लेकर जागरूक करने वालों को सम्मानित किया जाएगा।

कुछ पर्यावरण योद्धाओं से आपको परिचित कराना चाहता हूं। बिहार के बक्सर जिले के राजपुर गांव के निवासी हैं ब्रजेश कुमार सिंह। ये बिहार में ही सरकारी शिक्षक के रूप में सेवा देते हुए वैश्वित तपन (ग्लोबल वार्मिंग) के खतरों के प्रति आगाह करते हैं। वायु प्रदूषण को कम करने के लिए पौधारोपण कार्य एवं जल, जंगल, जीव जन्तुओं की संरक्षण कार्य में रुचि रखते हैं।

 

   पर्यावरण योद्धा ब्रजेश कुमार सिंह।

आयुब एकेडमी, झारखण्ड के ग्रामीण क्षेत्र में एक एकेडमी है। यहां निश्शुल्क पढ़ाने के साथ-साथ निश्शुल्क हॉस्टल में रखकर पढ़ाई की तैयारी कराई जाती है। यहां पढ़ाई के साथ-साथ बचपन से ही बच्चों को पौधरोपण करने और संरक्षित करने की गतिविधियां सिखाई जाती हैं। ताकि वह अपने जीवनकाल में लगातार पौधा लगाते रहें और दूसरों को भी प्रेरित करते रहें। इसी एकेडमी के छात्र हैं डायमंड दोराई। वह इन गतिविधियों में खूब हिस्सा लेते हैं। डायमंड की उम्र अभी मात्र नौ साल है। इस सम्मान समारोह में डायमंड का भी नाम शामिल किया गया है।
                                                                          नन्हा पर्यावरण योद्धा डायमंड दोराई।
इस एकेडमी से विक्रम लागुरी व सुशांत बानरा नामक छात्रों को भी सम्मानित किया जाएगा। पटना के ही निवासी सुजय कुमार पांडेय

पीपल, नीम, तुलसी अभियान के साथ नेकी की दीवार (प्रतिनिधि) और जन उद्यान अभियान से भी जुड़े हैं। बक्सर के विपिन कुमार, जयपुर राजस्थान के डॉ. नरेंद्र भूषण सिंह, ट्रीमैन नाम से विख्यात बिहार के सुपौल जिले के रामप्रकाश रवि को सम्मानित किया जाएगा।
                                                                                        ट्री-मैन रामप्रकाश रवि। 
मुजफ्फरपुर जिले के मालीघाट की निवासी अनीता कुमारी लोकगीतों को माध्यम से समाज में विभिन्न विषयों पर जागरूकता अभियान चलाती हैं। इनको अभी तक “उस्ताद बिस्मिल्लाह खां सम्मान”, “पुरखा पुरनिया सम्मान”, स्त्रीरत्न लोकनायिका, सरला श्रीवास सम्मान, किलकारी कला सम्मान, यादव चंद्र पांडेय सम्मान, विंटर कार्निवाल सम्मान, उद्भव लोक कला सम्मान, चंद्रगुप्त मौर्य सम्मान, महाकवि आचार्य जानकीवल्लभ शास्त्री जन्म शताब्दी सेवावर्ती सम्मान, उत्कृष्ट कला सम्मान, चरखा सम्मान से नवाजा जा चुका है। इनके सम्मानों की लड़ी में अब पर्यावरण योद्धा का सम्मान भी जुड़ जाएगा। मधुबनी जिले के रवि रौशन कुमार, मुजफ्फरपुर के लोक कलाकार सुनील कुमार सहित पर्यावरण के क्षेत्र में काम करने वाले तीन दर्जन से ज्यादा लोगों को सम्मानित किया जाएगा।
पटना के अमरजीत, अर्पणा बाला, मंजू देवी, संतोषी कुमारी, शाकंभरी, हरियाणा के हरिओम बाबा, समस्तीपुर की निधि कुमारी, नेपाल के उमेश यादव, भोपाल की डॉ. सपना गुप्ता, नेपाल की रानी राय, बक्सर के जितेंद्र मिश्रा, पटना के अमित कुमार पांडेय, वैशाली के अमित मकरंद, आदि प्रमुख नाम सम्मानित होने वालों की सूची में शामिल हैं।
पीपल, नीम, तुलसी अभियान के संयोजक डॉ. धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि इस सम्मान समारोह के आयोजन का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण संरक्षण के लिए काम कर रहे लोगों को प्राेत्साहित करना है।

 


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.