July 24, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

Brecking News, नये संसद भवन के उद्घाटन को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर जनहित याचिका खारिज

Sachchi Baten

याचिकाकर्ता को सुप्रीम फटकार, कहा अगली बार ऐसी याचिका आई तो लगाएंगे जुर्माना

नई दिल्ली (सच्ची बातें)। New Parliament Building Inauguration नए संसद भवन का उद्घाटन भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु से करवाने की मांग वाली याचिका को शुक्रवार को सर्वोच्च न्यायालय ने खारिज कर दी है। कोर्ट ने इसके साथ ही याचिकाकर्ता को फटकार लगाते हुए कहा कि अगर ऐसी याचिका दोबारा लगाई गई तो कोर्ट जुर्माना भी लगा देगा।

 

सुप्रीम कोर्ट (SC) में बीते दिन इस मामले में एक जनहित याचिका (PIL) दाखिल की गई थी, जिसमें मांग की गई थी कि सुप्रीम कोर्ट केंद्र को ये निर्देश दे कि नए संसद भवन का 28 मई को उद्घाटन राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु द्वारा किया जाना चाहिए। याचिका में कहा गया था कि लोकसभा सचिवालय ने उद्घाटन के लिए राष्ट्रपति को आमंत्रित नहीं करके संविधान का उल्लंघन किया है।

याचिका में कहा गया था कि सरकार ने भारतीय संविधान का उल्लंघन किया है और संविधान का सम्मान नहीं किया जा रहा है। संसद भारत की सर्वोच्च विधायी संस्था है। भारत में राष्ट्रपति दोनों सदनों, राज्यसभा और लोकसभा को बुलाने और टालने या लोकसभा को भंग करने की शक्ति रखते हैं, इसलिए ये कार्य भी उन्हें ही करना चाहिए।

बता दें कि कांग्रेस, टीएमसी और आप समेत कुल 21 विपक्षी दलों ने नए संसद भवन के उद्घाटन के बहिष्कार की घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु के बिना भवन का उद्घाटन करने का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का निर्णय “राष्ट्रपति का अपमान करना है और संविधान का उल्लंघन भी है”।


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.