July 23, 2024 |

BREAKING NEWS

- Advertisement -

पृथ्वी बचाने में जुटा एक ‘हीरा’

Sachchi Baten

विश्व पृथ्वी दिवस पर लखनऊ से पूरे विश्व को पहुंचेगा संदेश

विश्व पृथ्वी  दिवस का इस साल का थीम है Planet V/S Plastics ग्रह बनाम प्लास्टिक

राजेश पटेल, लखनऊ (सच्ची बातें)। भारतीय प्रशासनिक सेवा का एक ‘हीरा’ पृथ्वी बचाने की मुहिम में जुटा है। जी हां, इस ‘हीरा’ का नाम है डॉ. हीरालाल। 22 अप्रैल को डॉ. वर्मा लखनऊ में एक बड़ा आयोजन करेंगे। इसके माध्यम से पृथ्वी बचाने का संदेश पूरे विश्व में पहुंचेगा। विश्व पृथ्वी दिवस का इस साल का थीम Planet V/S Plastics ग्रह बनाम प्लास्टिक है।

22 अप्रैल को होटल लिनीज गोमती नगर लखनऊ में आगा खान फाउंडेशन के तत्वावधान में earth day summit का आयोजन किया जाएगा। इसके तहत जल जंगल और जमीन पर चर्चा होगी। सुबह नौ बज से शुरू होने वाला यह कार्यक्रम शााम पांच बजे तक चलेगा। आगा  खान फाउंडेशन के इस अहम आयोजन को उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग के ग्रेटर शारदा सहायक विकास प्राधिकारी ने सहयोग किया है। डॉ. हीरालाल इसके प्रशासक हैं। सम्मिट का आउटरिच पार्टनल ‘मॉडल गांव’ है। वायर एड एक्शन एक्शन एड, सिटी मांटेसरी स्कूल, इरिगेशन एसोसिएशन ऑफ इंडिया तथा इंडियन वाटर वर्क्स एसोसिएशन का भी सहयोग है।

एक घंटा 20 मिनट के पहले यानि उद्घाटन सत्र में आगा खान फाउंडेशन के निदेशक वाश डॉ. असद उमर, एक्शन एड इंडिया के एक्जक्यूटिव डाइरेक्टर संदीप चचरा, सिटी मांटेसरी स्कूल सोसाइटी की चेयरमैन और प्रबंधक प्रो. गीता गांधी, रायबरेली से पद्मश्री सुधा सिंह, ग्रेटर नोएडा के एडिशनल कमिश्नर राजीव यादव, ग्रेटर शारदा के चेयरमैन और प्रसासक डॉ. हीरालाल (आइएएस) तथा दीपक कुमार आइएएस इस सम्मिट के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा करेंगे।

दूसरा सत्र भी एक घंटा 20 मिनट का ही होगा। ग्रह बनाम प्लास्टिक विषय पर पैनल डिस्कशन में स्वच्छ भारत मिशन उत्तर प्रदेश के प्रबंधन  निदेशक राजकुमार, नवभारत टाइम्स के स्थानीय संपादक सुधीर मिश्रा,  बाराबंकी से पद्मश्री किसान रामशरण वर्मा, वाटर एड इंडिया के स्टेट प्रोग्राम डाइरेक्टर फारुख रहमान खान बैठेंगे।

इसके बाद के भी सभी सत्र पैनल डिस्कशन वाले ही होंगे। पैनल डिस्कशन के दूसरे सत्र में डॉ. हीरालाल आइएएस, फिम इरिगेशन इंडिया प्रा. लि. के मार्केटिंग मैनेजर डॉ. दीपक जंजीरे, आगा खान फाउंडेशन के डॉ. असद उमर, मध्य प्रदेश के सतना से पद्मश्री बाबूलाल दहिया, एएसएम सहगल फाउंडेशन के सलाहुद्दीन सैफी शामिल होंगे। इस सत्र में जल पर चर्चा होगी। इसके मॉडरेटर द इकोनॉमिक टाइम्स के सहायक संपादक अर्पित गुप्ता होंगे।

तीसरे सत्र में  पेड़ों को बचाने की बात होगी। इसमें पूर्व अपर मुख्यय सचिव अरुण सिन्हा, हिंदुस्तान टाइम्स के स्थानीय संपादक प्रांशु मिश्रा, वीएसवीएल से दिव्यांश बी मुंदरा, बीसीजी से आशीष  कुलकर्णी शिरकत करेंगे। मॉडरेटर होंगी घर आई एक नन्हीं परी फाउंडेशन की एभा सिंह।

चौथे और अंतिम सत्र में जमीन बचाने पर चर्चा की जाएगी। इसमें अवकाश प्राप्त आइएएस संजय आर भूसरेड्डी, दैनिक जागरण के राज्य संपादक आशुतोष शुक्ला, विलियम जे क्लिंटन फाउंडेशन छ्त्तीसगढ़ से डॉ. रोहित बघेल, बिल एंड मेलिंगा गेट्स फाउंडेशन की स्टेट हेट निधि श्रीनिवास शामिल होंगी। चैतन्य फाउंडेशन के ओम सिंह इस सत्र के मॉडरेटर होंगे।

बता दें कि इस पूरे आयोजन में डॉ. हीरालाल के योगदान की सराहना हो रही है। वह  पर्यावरण के प्रति संवेदनशील अफसर  हैं। विभिन्न पदों पर रहते हुए पर्यावरण के लिए भी समर्पित रहते हैं। इसके लिए डॉ. वर्मा को राज्य तथा केंद्र सरकार से  सम्मानित भी किया जा चुका है। इनकी किताब डायनेमिक डीएम काफी चर्चा मेंं रही है।


Sachchi Baten

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.